झीरम घाटी हमला प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट में छत्तीसगढ़ सरकार की अपील खारिज

नई दिल्ली,  झीरम घाटी नक्सली हमले की जांच कर रहे आयोग द्वारा अतिरिक्त गवाहों से पूछताछ से इन्कार करने के खिलाफ दायर छत्तीसगढ़ सरकार की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने ठुकरा दी है। 2013 को हुए इस हमले में कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं समेत 29 लोग मारे गए थे।


मंगलवार को जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने कहा कि सरकार जांच आयोग का कार्यकाल बढ़ा सकती थी, लेकिन उसकी कार्यवाही पूरी हो चुकी है। पीठ ने कहा कि आप चाहते हैं कि इस मामले में कुछ विशेषज्ञ गवाहों से भी पूछताछ हो, लेकिन आयोग इसके लिए तैयार नहीं है। इस पीठ में जस्टिस आर.एस.रेड्डी और एम.आर.शाह भी शामिल हैं। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट भी इस मामले में राज्य सरकार की याचिका ठुकरा चुकी है। राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती है।


उल्लेखनीय है 25 मई, 2013 में नक्सलियों ने बस्तर के दरबा क्षेत्र की झीरम घाटी में कांग्रेसी नेताओं के काफिले पर हमला किया था। हमले में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंद कुमार पटेल, नेता विपक्ष महेंद्र कर्मा और पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्या चरण शुक्ल समेत 29 लोग मारे गए थे।


नई सरकार बनने तक 67 लोगों के लिए गए बयान


सुप्रीम कोर्ट में छत्तीसगढ़ सरकार के स्थायी वकील समीर सोढ़ी के साथ अभिषेक मनु सिंघवी ने पीठ के समक्ष कहा कि घटना के बाद गठित जांच आयोग ने 2018 में नई सरकार बनने तक 67 लोगों के बयान लिए। आयोग को संदर्भ की अतिरिक्त शर्ते बताई गई लेकिन सात माह तक आयोग ने कुछ नहीं किया। गत अक्टूबर में दो लोगों की गवाही हुई, लेकिन राज्य सरकार जिन छह और गवाहों की गवाही चाहती थी आयोग ने उन्हें नहीं बुलाया।



इस पर पीठ ने कहा कि जांच आयोग ने पिछले सितंबर को ही कह दिया था कि वह एक अक्टूबर के बाद किसी से पूछताछ नहीं करेगा। पीठ ने कहा कि आयोग ने गवाही के इच्छुक लोगों से हलफनामा मांगा था लेकिन उन्होंने नहीं दिया।


 


जांच खिंचने पर कई बार आयोग का कार्यकाल बढ़ाया गया


उल्लेखनीय है राज्य सरकार ने पिछले सप्ताह सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि आयोग ने इस मामले में छह अहम गवाहों का पक्ष जानने के बजाय जांच ही बंद कर दी। ऐसे में आयोग का गठन जिस उद्देश्य से हुआ था वह कैसे पूरा होगा।


Popular posts
यूपी पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, बीडीसी औऱ जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए चिन्हों का चयन हो गया है
इमेज
बंद हो जायेंगे 100, 10 के पुराने नोट, इस दिन के बाद नही रहेगे चलन में
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज
बकेवर सब्जी मंडी से सायकिल चोरी
इमेज