10 नवंबर से कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के लिए वॉलिंटियर्स का होगा पंजीकरण

10 नवंबर से कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के लिए वॉलिंटियर्स का होगा पंजीकरण


(न्यूज़)।अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेएन मेडिकल कॉलेज में हैदराबाद की भारत बायोटेक कंपनी द्वारा बनाई जा रही कोरोना वैक्सीन के लिए स्वैच्छिक रूप से आगे आने वाले लोगों के पंजीकरण का कार्य 10 नवंबर से शुरू किया जा रहा है।पंजीकरण का कार्य पुराने ओपीडी ब्लॉक हॉल में सुबह 9:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक होगा। इसके बाद इस वैक्सीन का ट्रायल इन लोगों पर किया जाएगा।एक हजार वॉलिंटियर्स के ऊपर इस वैक्सीन का ट्रायल किया जाना है। इतनी बड़ी संख्या में स्वयं अपने आप लोगों का ट्रायल के लिए आगे आना एक चुनौती के रूप में देखा जा रहा है।विश्वविद्यालय प्रशासन ने अपील की है कि मानवता के हित में लोग बढ़-चढ़कर आगे आएं।वैक्सीन के ट्रायल से संबंधित सभी जानकारी ट्रायल से पहले वॉलिंटियर्स को दे दी जाएगी।इस ट्रायल में यह देखा जाएगा कि शरीर में एंटीबॉडी किस प्रकार विकसित हो रही है।वैक्सीन वायरस को मारने में कितना सक्षम साबित हो रही है।पंजीकरण के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक मोबाइल नंबर 7455021652 भी जारी किया है।इस पर इच्छुक लोग संपर्क करके अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।एएमयू के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा है कि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के निर्देश के अनुसार ही ट्रायल की सभी तैयारियां की गई हैं।