छात्रवृत्ति के लिए अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र-छात्राएं ऑनलाइन करें आवेदन

 छात्रवृत्ति के लिए अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र-छात्राएं ऑनलाइन करें आवेदन



फतेहपुर।जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मुदित श्रीवास्तव ने बताया कि भारत सरकार द्वारा संचालित प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक एवं मेरिट-कम-मीन्स छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत जनपद में संचालित समस्त शैक्षणिक संस्थान एवं जनपद के बाहर स्थित शैक्षणिक संस्थानों में अध्ययनरत अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र /छात्राओं द्वारा वित्तीय वर्ष 2020-21 में ऑनलाइन आवेदन किया जा रहा है । छात्र-छात्राओं द्वारा किया गया आवेदन पत्र किए गए समस्त छात्रों के छात्रवृत्ति आवेदन पत्रों में उल्लेखित बिंदुओं का भौतिक सत्यापन तत्कालीन तौर पर किया जाना संभव नहीं हो पाता है, अतः जनपद में संचालित समस्त शैक्षणिक संस्थान एवं जनपद के बाहर स्थित शैक्षणिक संस्थानों के प्रबंधक /प्रधानाचार्य को निर्देशित किया जाता है कि अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं द्वारा  प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक एवं मेरिट-कम-मीन्स छात्रवृत्ति हेतु किए गए ऑनलाइन आवेदन पत्रों का निरीक्षण परीक्षण एवं  सत्यापन करने की छात्रवृत्ति हेतु जो भी आवेदन किए गए हैं वह छात्र उनकी संस्था में संस्थागत /व्यक्तिगत रूप से अध्ययनरत है अथवा नहीं तथा यह भी सुनिश्चित कर लें कि छात्रों द्वारा दिवा छात्र के रूप में या हॉस्टल छात्र के रूप में जो भी विस्तृत जानकारी भरी गई है वह सही है अथवा गलत संस्था प्रबंधक/ प्रधानाचार्य द्वारा ऑनलाइन डाटा अग्रसारित करने के पूर्व छात्रों द्वारा भरे गए आवेदन पत्र तथा अभिलेखों का गंभीरता पूर्वक परीक्षण करने उपरांत ही डाटा जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के स्तर पर अग्रसारित करें। यदि किसी शाखा प्रबंधक /प्रधानाचार्य द्वारा बिना परीक्षण के ही डाटा अग्रसारित किया जाता है और बाद में किसी प्रकार की अनियमितता की शिकायत प्राप्त होती है तो प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य व्यक्तिगत रूप से उत्तरदाई होंगे । संस्था प्रबंधक/ प्रधानाचार्य द्वारा इस आशय का एक ₹10 का शपथ प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा कि छात्रों द्वारा भरे गए आवेदन पत्रों का विधिवत परीक्षण करने उपरांत ही अग्रसारित किया गया है । यदि भविष्य में संस्था के विरुद्ध छात्रवृत्ति गबन अनियमितता के संबंध में कोई शिकायत प्राप्त होती है तो प्रबंधक /प्रधानाचार्य को व्यक्तिगत रूप से उत्तरदाई मानते हुए छात्रवृत्ति की समस्त धनराशि की संस्था प्रबंधक /प्रधानाचार्य से रिकवरी की जाएगी । उक्त के क्रम में समस्त विद्यालय शिक्षण संस्थाओं के नोडल अधिकारी को सूचित किया जाता है कि दिनांक 12 जनवरी 2021 को नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल की साइट मेंटेनेंस होने के कारण संपूर्ण विद्यालय स्तर पर लंबित प्रदर्शित हो रहा है अतः डाटा को परीक्षण करने के उपरांत ही तत्काल अग्रसारित किया जाए ।