प्रख्यात शायर व कवि का निधन

 प्रख्यात शायर व कवि का निधन 


----अपने जीवन मे 100 से अधिक लिखी साहित्य सृजन की पुस्तकें

गिरिराज शुक्ला

 बिंदकीफतेहपुर  प्रख्यात शायर व कविता की पुस्तकें लिखने वाली शायर का निधन हो गया यह जानकारी नगर के लोगों को प्रभावित हो शोक की लहर  छा गई और उनके आवास पर देखने वाले लोगों का तांता लगा रहा

        सोमवार की भोर पहर नगर लंका रोड मुगलाही निवासी प्रख्यात शायर व कवि रहमत उल्ला नजमी का 98 साल की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने अपने साहित्य सृजन के जीवन में 100 से अधिक पुस्तकें लिखीं। उनके निधन से साहित्य जगत को बड़ी क्षति हुई है। उनके निधन की खबर के  नगर वासियों को हुई तो बाद उनके आवास पर अंतिम दर्शन के लिए लोगों तांता लगा है। और नगर में शोक की लहर बनी रही।उनके पौत्र हयात उल्ला नजमी ने बताया कि रहमत उल्लाह  नाजनी खान का जन्म  सरसौल कानपुर देहात में  1923  में हुआ था और अपनी शायर व कवि के माध्यम से लोगों को मोह लिया करते थे बताते चलें वह 1969 में बिंदकी आकर लकड़ी का प्रथम व्यवसाय किया था इसके बाद उन्होंने अपनी जीवन लीला किताबों में लिखते चले गए वह बसंत पंचमी के दिन कवि सम्मेलन में शामिल हुए थे जिसमें उनको सभी कवियों ने प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित भी किया था  सोमवार को अपनी अंतिम सांसे लेकर दुनिया को अलविदा कह गए यह जानकारी मिलते ही बिंदकी नगर में मायूसी छा गई और उनको बिंदकी नगर ककरहा कब्रिस्तान में अपरान्ह 2 बजे सुपुर्दे खाक कर दिया गया।

Popular posts
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
और जब राज्य मंत्री ने पेट्रोल पंप में बाइक में भरा तेल
इमेज
घर से चूहे, छिपकली और मक्खी भगाने के घरेलू नुस्खे, एक बार जरूर ट्राई करें
इमेज