खजुहा पीएचसी के चिकित्सा प्रभारी के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा सीएम योगी से शिकायत।

 खजुहा पीएचसी के चिकित्सा प्रभारी के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा सीएम योगी से शिकायत।


फतेहपुर/बिन्दकी।

जिले के खजुहा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र(पीएचसी) के चिकित्सा प्रभारी अधिकारी डॉक्टर धर्मेंद्र कुमार के विरुद्ध क्षेत्रीय ग्रामीणों ने कई गम्भीर आरोप लगाएं हैं।उन्होंने इस सम्बंध में मुख्यमंत्री पोर्टल के माध्यम से शिकायती पत्र भी सीएम योगी को भेजा है।

ग्रामीणों ने शिकायत पत्र में लिखा है कि प्रभारी डॉ. धर्मेंद्र कुमार का मूल निवास स्वास्थ्य केंद्र से महज 12 किलोमीटर की दूरी पर है।जिसके चलते अस्पताल में होने वाली गतिविधियों को इनके रिश्तेदारों औऱ परिवारीजनों द्वारा प्रभावित किया जाता है।

ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि अस्पताल परिसर की एक जर्जर बिल्डिंग को ज़रूरी क़ानूनी प्रक्रिया अपनाए बिना ही जेसीबी से गिरवा दिया गया औऱ उससे निकले हुए सामान जैसे सरिया, खिड़की, दरवाजे, ईंट आदि को अपने घर ले जाया गया है।

ग्रामीणों ने यह भी बताया कि अस्पताल के प्रयोग में लाई जाने वाली दो पुरानी सरकारी जीपों को भी औने पौने दाम में अपने रिश्तेदारों को बेंच दी गईं हैं।

इसके अलावा सबसे गम्भीर आरोप चिकित्सा प्रभारी पर यह है कि अस्पताल में मनोज कुशवाहा नाम का एक व्यक्ति है जो कि अस्पताल में बनी लैब में जांच, कोरोना काल के दौरान कोविड की जाँच आदि करता रहा है।मनोज कुशवाहा द्वारा लोगों से वसूली भी की गई है।

शिकायत करने वालों में अरविंद कुमार, राजेश कुमार, विनोद कुमार, धीरेंद्र कुमार आदि प्रमुख हैं।

इस सम्बंध में फतेहपुर के सीएमओ डॉ. गोपाल माहेश्वरी से बात की गई तो उनका कहना था हमारे पास अभी इस सम्बंध में कोई जानकारी नहीं है।शिकायत आएगी तो जाँच की जायेगी।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र