समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के द्वारा चलाएं जा रहे क्रमिक अनशन को खत्म करवाने पहुंचे नगर मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी तथा धरना स्थल पर पहुंचे सांसद विशंभर प्रसाद निषाद

 समाजवादी पार्टी  के  कार्यकर्ताओं के द्वारा चलाएं जा रहे  क्रमिक अनशन को खत्म करवाने पहुंचे  नगर मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी तथा धरना स्थल पर पहुंचे सांसद विशंभर प्रसाद निषाद 



बाँदा -  जनपद में अशोक लाट तिराहे में  चल रहे क्रमिक अनशन  को खत्म कराने पहुंचे  नगर मजिस्ट्रेट  केशव नाथ गुप्ता  व सीओ सिटी अजय भदोरिया को समाजवादी पार्टी की तरफ से जिलाधिकारी बाँदा के द्वारा राज्यपाल महोदया के नाम ज्ञापन सौंपा गया वहीं धरना स्थल पर पहुंचे राज्यसभा सांसद विशंभर प्रसाद निषाद को भी ज्ञापन दिया अतः सिटी मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी के द्वारा आश्वासन दिया गया जो भी उचित कार्रवाई होगी 1 हफ्ते के अंदर करेंगे कृपया आप धरना खत्म करें  तथा समाजवादी पार्टी के जिला उपाध्यक्ष सुशील त्रिवेदी सहित अन्य सपाइयों के द्वारा बताया गया की जनपद-बाँदा की तहसील नरैनी, बाँदा सदर, पैलानी, बबेरू के अन्तर्गत

बालू मोरंग खदान के पट्टेधारकों द्वारा केन नदी, यमुना नदी, बागै नदी, चन्द्रावल नदी की

जल धारा रोककर 20-30 फुट के गड्ढे बनाकर NGT के नियमों का खुला उल्लघन कर

लगभग 30 बालू खदानों से पोकलैण्ड व लिफ्टर मशीनों से अवैध रूप से रातों-दिन खनन

किया जा रहा है तथा चन्द्रावल नदी, केन नदी आदि नदियों में जलधारा रोककर अवैध रूप

से पुल बनाकर भारी ओवरलोड ट्रकों की निकासी करायी जा रही है। जिससे गर्मियों में पीने

के पानी की संकट उत्पन्न हो जायेगा तथा भारी वाहनों के ओवरलोड से जिले की सभी

सड़के गड्ढो में तब्दील हो गई हैं, गाँवों तक एम्बुलेन्स 102. 108 सही समय पर न पहुचने के

कारण लोगों की जाने जा रही हैं एवं गर्भवती महिलाएँ अस्पताल नहीं पहुंच पा रही हैं। जिले

के अधिकारियों व खनिज विभाग की मिली भगत के कारण अवैध खनन एवं ओवरलोड ट्रकों

के संचालन पर कार्यवाही नहीं की जा रही है जिससे सैकड़ों मजदूरों, किसानों, महिलाओं,

छात्र-छात्राओं की जाने भी जा चुकी है।

इसलिए दिनांक-24 फरवरी 2021 से जिले में ओवरलोड अवैध बालू के ट्रकों के

आवागमन से जिले की खराब हो रही सड़कें व आम जनमानस को शहर बांदा में हो रही

परेशानियों के कारण बाँदा के समाजसेवियों द्वारा क्रमिक अनशन स्थान-अशोकलाट तिराहा में

चल रहा है। बिन्दु निम्नलिखित हैं-

1. बाँदा बाईपास मार्ग पूरी तरह ओद लोड ट्रकों के संचालन से गड्ढो में तब्दील हो गया है।

2 बाँदा-कनवारा व दरदा मार्ग, मोहनपुरवा, गोयरा, अछराँड मार्ग, मरौली-उजरेहटा मार्ग,

दुरेडी-पहरा मार्ग मटाघ मार्ग स्योढ़ा-गिरवा मार्ग, रिसोरा मार्ग, करतल गोरेपुरवा मार्ग

जसपुरा-अमारा-बरेहटा-छनिहाडेरा मार्ग, अमलीकौर-वेंदाघाट-जौहरपुर-चिल्ला मार्ग

लौमर-चिल्ला मार्ग कालेश्वर-खप्टिहा-साँड़ी मार्ग, लुकतरा-पथरी मार्ग, मवई-चहितारा

मार्ग कमासिन ओरन मार्ग, नरैनी-दिवली मार्ग, ओरन-भदावल मार्ग पूरी तरह से ध्वस्त है

तथा राष्ट्रीय मार्ग बाँदा-तिन्दवारी-फतेहपुर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। जिनकी

जाँच कराकर मरम्मत कराया जाना आवश्यक है।

3 मध्य प्रदेश से ओवरलोड ट्रकों के संचालन पर रोक लगाया जाना आवश्यक है।

4 जवारा बालूघाट के सभी खण्ड, मरौली अछराँड के सभी खण्ड, पविहाकलॉ. सॉडी.

दुरेडी. पथरी खदानों के सभी खण्ड, भदावल, ममसी, जौहरपुर वेन्दा के सभी खण्ड

पैलानी खदान, अमलोर, बरेहटा, सादीमदनपुर आदि खदानों में अवैध खनन व उससे लगे

किसानों के निजी भूमि से बिना पट्टे के अवैध खनन किया जा रहा है जिसे रोका जाना

आवश्यक है।

5. बार्ग नदी एवं केन नदी की जलधारा रोककर अवैध रूप से पुल बनाकर ट्रकों की निकासी

की जा रही है जिसे रोका जाना आवश्यक है।

6 पैलानी पुल व बेदाघाट पुल के पास से नियमों का उल्लंघन कर पोकलैण्ड मशीनों द्वारा

खनन किया जा रहा है जिसे रोका जाना आवश्यक है।

7 बाँदा शहर के अन्दर से भरी ओवरलोड वालू के ट्रकों के संचालन से दुर्घटनाएं हो रही है।

इन्हें रोका जाना आवश्यक है।

8. खदानों में सीसीटीवी कैमर बन्द कराकर अवैध खनन किया जा रहा है जिसे रोका

जाना आवश्यक है।

9 खदानों में धर्मकाँटा केवल खनापूर्ति के लिए लगे हैं, धर्मकांटा के बाहर बालू मोरंग डम्प

करके मशीनों से ट्रकों में लोडिग की जा रही है। जिसको रोका जाना आवश्यक है।

अतः आपसे आनुरोध है कि उपरोक्त बिन्दुओं का अवलोकन कर शासन स्तर से जाँच

कराकर कार्यवाही करने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को आदेशित करने की

कृपा करें जानिरयानी स्थान-अशोक लाट तिराहा सुशील त्रिवेदी- अभिषेक मिश्राअमित पाण्डेय  धीरज मिश्रा। लक्ष्मीकान्त शुक्ला. अवधेश कुमार विख्यात

 शुभम ,प्रशान्त गुप्ता ,अनूप,अभिषेक शुक्ला राजेन्द्र यादव आदि के द्वारा ज्ञापन शॉप कर ओवरलोडिंग वह खराब रो-रो को जल्दी सुधारने हेतु ज्ञापन दिया गया