मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले विकास कार्यों की 37 बिंदुओं की बैठक जिला अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न

 मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले विकास कार्यों की 37 बिंदुओं की बैठक जिला अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न



फतेहपुर।मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों की 37 बिन्दुओं की बैठक विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, निराश्रित गौ-संरक्षण, पशुओं

का टीकाकरण, प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना(गोल्डेन कार्ड), परिवार नियोजन, हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, महिलाओं व बच्चों का टीकाकरण, सामुदायिक

शौचालय, आपरेशन कायाकल्प, हैण्डपम्प रिबोरिंग, एएनएम सेन्टर, पंचायत भवन, पार्को का

निर्माण, अपशिष्ट प्रबधन, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी/ग्रामीण, मनरेगा,

आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री जननी सुरक्षा योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, मत्सय पालन, प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, वृद्वा, निराश्रित महिला, दिव्यांग पेंशन,छात्रवृत्ति, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, कौशल विकास , आँगनबाड़ी, सहकारिता आदि बिन्दुओं पर विस्तृत समीक्षा की गयी। 

जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिन विभागों की रैकिंग खराब है वह अपने विभाग से सम्बन्धित योजनाओं को व्यक्तिगत रूचि लेते हुए कार्यो को सम्पादित करते हुए रैकिंग में सुधार लाये। कौशल विकास मिशन के तहत

ट्रेनिंग करायी जाय और माह में दो बार बैठक भी करें। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत खंड विकास अधिकारी, अधिशाषी अधिकारी नगर पंचायत से जन्म प्रमाण पत्र ज्यादा ये ज्यादा बनाये ताकि लोग योजना का लाभ ले सके। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में 17 जोड़ों का विवाह/ निकाह कराया जाना है, की तिथि व स्थान निर्धारित करते हुए विवाह/निकाह सम्पन्न कराया जाय। प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना में भौतिक लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत करने के निर्देश दिये। अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिन विभागों में योजनाओं के मद में धनराशि आवंटित नही है का मांग पत्र मेरे माध्यम से शासन को प्रेषित किया जाय। उन्होने

नोडल अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रत्येक शनिवार को गौवंश आश्रय स्थलों का निरीक्षण

किया जाये और निरीक्षण में पायी गयी कमियों का निस्तारण कराना सुनिश्चित करे। उन्होने

अधिशाषी अभियन्ता विद्युत व बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि आपस में समन्वय

करके जिन विद्यालयों में विद्युत बिल बकाया है, निकलवाकर भुगतान कराया जाय।

जिलाधिकारी ने जनपद स्तरीय अधिकारियों से कहा कि 45 से 60 वर्ष की आयु के लोगो को

कोविड-19 वैक्सीन लगावाने हेतु विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित लोगो को प्रेरित करके वैक्सीनेशन कराया जाय। उन्होने कहा कि जनपद में लगभग 18 हजार वैक्सीन लोगो को

लगायी जा चुकी है, किसी को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नही है।

मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने बैठक में कहा कि अपने विभाग से सम्बन्धित योजनाओं की वाल पेन्टिंग कराये। जिससे लोगो को विभागों में चल रही योजनाओं की विस्तृत जानकारी हो सके और लाभ ले सकें।

इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी रमेश चन्द्रा,परियोजना निदेशक डीआरडीए ए0के0 निगम, जिला अर्थ एवं संख्यधिकारी जोगेन्द्र सिंह यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0

गोपाल महेश्वरी, डीसी मनरेगा पुतान सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी के0एस0 मिश्र, जिला कृषि अधिकारी बृजेन्द्र सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी अंजनी कुमार सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी जया त्रिपाठी, सहायक निदेशक मत्स्य आरडी प्रजापति, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी शिवेन्द्र प्रताप सिंह, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद मीरा सिंह,एआर-कोआपरेटिव, वनाधिकारी, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, अधिशाषी अभियन्ता आरईएस, पीडब्लूडी, विद्युत, जल निगम, सिंचाई सहित अनेक जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहें।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र