महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति जागरूक हो--- सदस्य महिला आयोग

 महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति जागरूक हो--- सदस्य महिला आयोग


----- भारी संख्या में नगर क्षेत्र की महिलाएं रही मौजूद

गिरिराज शुक्ला

बिंदकी फतेहपुर,महिलाओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होना चाहिए तथा घरेलू हिंसा से बचने की कोशिश करना चाहिए यह बात उत्तर प्रदेश शासन के महिला आयोग की सदस्य अनीता सचान ने नगर के तहसील परिसर में उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग द्वारा आयोजित महिला जनसुनवाई एवं जागरूकता चौपाल में कही

       उन्होंने इस मौके में कहा कि महिलाओं को किसी के बहकावे में नहीं आना चाहिए स्वविवेक का इस्तेमाल करना चाहिए तथा जरूरत पड़ने पर पुलिस का सहारा भी लेना चाहिए उन्होंने कहा अपराधी द्वारा किए गए अपराध को बर्दाश्त करना अपराध को बढ़ावा देना है इसलिए निश्चित रूप से आत्मबल मजबूत कर अपराध और अपराधी के खिलाफ खड़े होना चाहिए ऐसा न करने पर अपराधी के हौसले और बढ़ते हैं और वह और अधिक बड़ी अपराधिक घटना कर सकता है उन्होंने कहा कि महिला आयोग की मंशा रहती है कि परिवारिक मामले आपस में ही सुलझ सके परिवार बिखरने से बच सके आपसी बातचीत के माध्यम से छोटे-मोटे घरेलू मामले में सुलह समझौते कर लेना चाहिए उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए वूमेन पावर लाइन 1090 महिला हेल्पलाइन 181 चाइल्ड हेल्प लाइन 1098 तथा आपातकालीन 112 का सहारा लेना चाहिए उन्होंने कहा की महिलाओं को अभी और अधिक जागरूक होने की जरूरत है महिलाएं किसी से कम नहीं है उन्हें किसी भी तरह पीछे रहने की जरूरत नहीं है लेकिन बहुत अधिक स्वच्छंदता खराब बात भी होती है ज्यादा आधुनिकता होने में परिवार तबाह भी होते हैं ऐसी स्थिति में महिलाओं को समाज में आगे भी बढ़ना चाहिए लेकिन मर्यादाओं का भी ध्यान रखना चाहिए उन्होंने कहा कि कभी-कभी बहकावे में आकर लोग निर्दोष लोगों के खिलाफ भी महिलाएं बेवजह मुकदमा दर्ज कराती हैं ऐसे कारणों से बचना चाहिए लेकिन यदि कोई अपराध करता है तो उससे डरने की कोई जरूरत नहीं है महिला आयोग उनके साथ है पुलिस उनके साथ है इस मौके पर उप जिलाधिकारी प्रियंका पुलिस क्षेत्राधिकारी योगेंद्र सिंह मलिक सहित कई अधिकारी मौजूद रहे वहीं सैकड़ों की संख्या में नगर क्षेत्र की महिलाएं भी रही।