असंगठित क्षेत्र में कार्यरत कर्म कारों के पंजीयन बढ़ाए जाने को लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न

 असंगठित क्षेत्र में कार्यरत कर्म कारों के पंजीयन बढ़ाए जाने को लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न



फतेहपुर।असंगठित क्षेत्र में कार्यरत कर्मकारों के पंजीयन बढ़ाये जाने व कार्ययोजना संबंधी बैठक जिलाधिकारी श्रीमती अपूर्वा दुबे की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में सम्पन्न हुई । उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अधिकाधिक लाभार्थियों का पंजीकरण कराकर योजना से लाभान्वित किया जाए । उन्होंने कहा कि भारत सरकार के श्रम एवं सेवायोजन मंत्रालय द्वारा असंगठित क्षेत्र में कार्यरत मजदूरों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने हेतु ई-श्रम पोर्टल लांच किया गया है, मजदूरों और गरीबो को सशक्त रूप से मजबूत बनाया जाय । उन्होंने कहा कि रोजगार सेवकों/ए0पी0ओ0 का प्रशिक्षण कराये जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लाभार्थियों का पंजीकरण हो सके और शासन की योजना से लाभान्वित हो सके। सहायक श्रमायुक्त सुमित कुमार ने बताया कि  ई-श्रम कार्ड बनवाने वाले असंगठित क्षेत्र के श्रमिक प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के अंतर्गत रु0 02 लाख तक के दुर्घटना बीमा कवर मिलेगा । भविष्य में ऐसे कामगारों के सभी सामाजिक सुरक्षा लाभ इस पोर्टल के माध्यम से प्रदान किये जायेंगे । ई-श्रम कार्ड पर 12 अंको का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर(UAN) बनेगा जिसे संम्पूर्ण भारत मे मान्यता होगी । श्रम कार्ड किसी भी जन सुविधा केंद्र से बनवाया जा सकता है, इसे बनवाने के लिए मजदूर को जन सुविधा केंद्र पर अपना आधार कार्ड अपने आश्रित का आधार कार्ड, श्रमिक के बैंक अकाउंट का विवरण तथा एक मोबाइल जिस पर पंजीकरण कराते समय ओटीपी प्राप्त होगा ले जाना होगा । ई-श्रम पंजीकरण निशुल्क है, कामगारों को सीएससी ऑपरेटर सहित किसी संस्था को कोई शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है । ई-श्रम कार्ड हेतु घरेलू नौकर, नौकरानी, कुक, सफाई कर्मचारी, गार्ड, रेजा, कुली, रिक्शा चालक, ठेला में किसी भी प्रकार का सामान बेचने वाला (वेंडर), होटल के नौकर, वेटर (रिसेप्शनिस्ट), पूछताछ वाले क्लर्क, ऑपरेटर, हर दुकान का नौकर, सेल्समैन, हेल्पर, ऑटो चालक, ड्राइवर, पंचर बनाने वाला, ब्यूटी पार्लर की वर्कर ,नाई, मोची, दर्जी, बढ़ई, प्लंबर, बिजली वाला (इलेक्ट्रीशियन), पुताई वाला(पेन्टर), टाइल्स वाला, वेल्डिंग वाला, खेती वाले मजदूर, मनरेगा मजदूर, ईट भट्ठा के मजदूर, पत्थर तोड़ने वाला, खदान मजदूर, फाल्स सीलिंग वाला, मूर्ति बनाने वाला, मछुवारा, चरवाहा, डेरी वाला, पशुपालक, डेयरी वाला, पेपर का हाकर, नर्स, वार्डबॉय, आया, आंगनबाड़ी कार्यकत्री, सहायिका, आशा वर्कर आदि असंगठित क्षेत्र में कार्यरत कामगार जिनकी आयु 16 से 59 वर्ष के बीच हो और ईपीएफओ /ईएसआईसी या एनपीएस का सदस्य न हो एवं जिसकी मासिक वेतन ₹15000 प्रति माह से कम हो वह सभी श्रम पोर्टल पर पंजीयन करवाने के पात्र हैं ।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश, सहायक श्रमायुक्त सुमित कुमार, जिला कृषि अधिकारी ब्रजेश सिंह, ईओ नगर पालिका सदर मीरा सिंह, व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा सहित संबंधित उपस्थित रहे ।