नुक्कड नाटक के माध्यम से कुष्ठ रोग के प्रति जागरुकता की अलख जगाई

 नुक्कड नाटक के माध्यम से कुष्ठ रोग के प्रति जागरुकता की अलख जगाई



बिंदकी फतेहपुर।विकास खण्ड मलवां  मे कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत एन. एल. आर. इंडिया संस्था के द्वारा नुक्कड़ नाटक/सामुदायिक बैठक के माध्यम से ग्राम साई एव पहुंर मे समुदाय के लोगों को कुष्ठ रोग के लक्षण, उपचार और बचाव के बारे में जागरूक किया गया! जिसमें अनुसंधान सहायक मनीष कुमार बाजपेयी जी के द्वारा बताया गया कि जिला फतेहपुर मे कुष्ठ रोग से बचाव के लिए पेप प्लस प्लस परियोजना चल रही है इस परियोजना के द्वारा कुष्ठ रोग के संचरण को रोकने के लिए, और कुष्ठ रोग से बचाव के लिए भविष्य में कुष्ठ रोगियों के परिवार के  सदस्यों एवँ निकट संपर्क के लोगों को कुष्ठ रोग से बचाव की दवा निशुल्क खिलाई जाएगी! 

अनुसंधान सहायक मंजरी के द्वारा कुष्ठ रोग के लक्षण बताते हुए जानकारी दी गयी कि कुष्ठ चमड़ी पर होने वाली एक समान्य बीमारी है। जो माइकोबैक्टिरियम लेप्रे नामक जीवाणु  से होता है जिसका  लक्षण शरीर पर हल्के या तांबे रंग दाग धब्बे से होता है जो पूरी तरह से सुन्न रहता है! कुष्ठ रोग का इलाज   एमडीटी है जो कि प्रत्येक सरकारी स्वास्थ केंद्रों पर निशुल्क उपलब्ध है!इस सामुदायिक बैठक में साई ग्राम प्रधान श्री सुरेन्द्र सिंह वैश्य सहित लगभग 500 लोगों को जागरुक किया गया।