कथा-यज्ञ मे दो बटुको का यज्ञोपवीत संस्कार

 कथा-यज्ञ मे दो बटुको का यज्ञोपवीत संस्कार



बिंदकी फतेहपुर।आदिगुरु शंकराचार्य आश्रम शिवराजपुर मे चल रहे शतचंडी महायज्ञ व श्रीराम कथा मे दो बटुको का आचार्यो ने विधिविधान से यज्ञोपवीत संस्कार कराया।रोहित तिवारी डारी व गिरिजाशंकर बाजपेयी के उपनयन संस्कार के पश्चात आचार्य राजन अवस्थी ने बताया हमारे धर्म मे सोलह संस्कारो का उल्लेख है।इन संस्कारो से ही व्यक्ति सुखी जीवन व्यतीत करता है।संस्कार विहीन जीवन सदा अपयश को प्राप्त होता है।कथाव्यास पंडित यदुनाथ अवस्थी ने शिव विवाह की कथा सुनाई।कथा मे भक्ति गीत सुनकर श्रोता मंत्रमुग्ध हो गये।इस मौके पर स्वामी सत्यानंद जी महाराज,आचार्य पंकज तिवारी, मनीष बाजपई,विमल दीक्षित,शिवा मिश्रा,अनुभव तिवारी,हर्षित त्रिपाठी, रामशंकर,नारदानंद स्वामी रहे।