लगातार मौसम खराब होने के कारण किसानों की धरना हुई स्थगित

 लगातार मौसम खराब होने के कारण किसानों की धरना हुई स्थगित



किसानों की मांगे ना पूरी होने के कारण किसान हुए थे आंदोलन के लिए लामबंद


फतेहपुर।शाशन प्रशासन के मनमाने  रवैये से नाराज भारतीय किसान यूनियन टिकैट गुट के कार्यकर्ता पदाधिकारियों के साथ 10/01/2022 दिन सोमवार को खागा तहसील परिसर में बिशाल आन्दोलन धरना किया था सुनिश्चित जो हुई स्थगित।यह धरना प्रदर्शनअनिश्चितकालीन चलने की बात कही गई थी लेकिन लगातार मौसम खराब होने के कारण भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट कार्यकर्ता प्रेस नोट जारी करते हुए धरना किया स्थगित लेकिन अब कब तक किसानो की मांगें सरकार पूरी करेगी , समस्या हल  होगी , कब तक आमरण अनशन  भारी संख्या में क्षेत्र के वरिष्ठ  किसान होंगे कब एकत्रित होगा विशाल आंदोलन आचार संगीता को देखते हुए देंगे कोई अन्य निश्चित दिन और तारीख। किसानों की मुख्य मांगे अन्ना जानवरो से फसले बरबाद  रही थी,नहरो के खादी कटने से खागा तहसील क्षेत्र मे सैकड़ों बीघा फसल जलमग्न हो गयी किसानो को दिया जाए मुवावजा,       समिति मे खाद उपलब्धता कराई जाए,  खाद्यान्न वितरण में की जा रही धांधली, किसानों का कर्ज तथा बिजली विल माफी, और किसानों के अनाज की सुनिश्चित की जाए एम एस पी, किसानों के साथ हो रहे अन्याय अत्याचार से भारतीय किसान यूनियन नहीं करेगी बर्दाश्त अन्य कई  समस्याओ पर करनी थी किसानों को वार्ता जिसकी रखेंगे एक अन्य कोई सुनिश्चित तारीख।किसानों की प्रेस नोट हुई जारी जहां भारतीय किसान यूनियन टिकैत ऐरायाॅ  ब्लॉक अध्यक्ष सोलंकी सिंह की प्रेस नोट जारी जहां मौसम खराब होने के कारण किसानों किसानों का 10 जनवरी 2022 आमरण अनशन हुआ स्थगित।