जनपद भी नहीं लग रहा चोरी की घटनाओं में अंकुश

 जनपद भी नहीं लग रहा चोरी की घटनाओं में अंकुश



फ़तेहपुर में बदमाशों के हौसले बुलंद, बंधक बनाकर शिक्षक के घर से लाखों के आभूषण व नकदी की हुई लूटपाट

 


फ़तेहपुर । उत्तरप्रदेश के फ़तेहपुर में बेखौफ बदमाशों ने पुलिस को धता बताकर हत्या, लूट और चोरियों की घटनाओं को बेधड़क अंजाम दे रहे है। एक ऐसा ही मामला बुधवार को सदर कोतवाली के फ़तेहपुर में सामने आया है। यहां ताम्बेश्वर नगर में बदमाशों ने एक शिक्षक के घर में घुसकर लूटपाट की। परिवारीजनों को मारपीट कर कमरे में बंधक बनाकर बदमाश नगदी, आभूषण समेत लाखों रुपये का सामान समेट ले गए। सूचना पर बुधवार की सुबह पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाने के बाद घंटों बदमाशों की तलाश करती रही, लेकिन बदमाशो का सुराग तक नहीं लगा। वहीं आए दिन हो रही घटनाओं से इलाके में दहशत फैली है।बदमाशों की मारपीट से घायल परिवारीजन अस्पताल में भर्तीशहर के ताम्बेश्वर नगर मोहल्ला निवासी चेतक सिंह शिक्षक हैं। मंगलवार की रात कुछ हथियारबंद बदमाशों ने उनके घर धावा बोला। घर की छत से घुसे बदमाशों ने असलहे के बल पर पूरे परिवार के साथ मारपीट की। जिससे शिक्षक व उनकी पत्नी प्रिया सिंह व बेटा सक्षम बेहोश हो गए। उसके बाद एक कमरे में बंद कर दिया। इस दौरान बदमाशों ने आलमारी का लॉकर तोड़कर सोने चांदी के जेवरात और नगदी सहित लाखों की कीमत का सामान लूट लिया। बदमाशों के जाने के बाद होश में आये परिवारीजनों की चीख पुकार पर जुटे आसपास के लोगों ने दरवाजा खोलकर लोगों को बाहर निकाला। बुधवार की सुबह सूचना पर इलाकाई पुलिस पहुंचकर तीनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। वहीं स्थानीय पुलिस ने मौका मुआयना कर आसपास के क्षेत्रों में बदमाशों की तलाश की, लेकिन कोई बदमाश पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका। बता दें कि इलाके में लूट, चोरी की आए दिन घटनाएं हो रही हैं।थाना प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार चतुर्वेदी ने बताया कि शिक्षक के घर मे लूटपाट कर रहे बदमाशों का विरोध करने पर अज्ञात बदमाशों ने शिक्षक के साथ उनकी पत्नी और बच्चे को मारपीट कर घायल कर दिया। जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

इससे पहले भी आधा दर्जन घरों में हुई हत्या और लूटपाट

गौरतलब हो कि, एक मार्च को सदर कोतवाली के राधानगर निवासी मनोज सिंह के घर बदमाशों ने पत्नी और दो बेटियों को घर मे बंधक बनाकर सोने, चांदी के जेवरात व 25 हज़ार रुपये की नगदी सहित पांच लाख लूटकर फरार हो थे।

वहीं एक जनवरी की रात को घर मे घुसे बदमाशों ने नींद से उठने पर सेवानिवृत्त शिक्षक बलवीर सिंह की ईंट से कुचलकर हत्या कर दी थी और 15 लाख के जेवर व डेढ़ लाख रुपये की नकदी लूट ले गए थे। इससे पहले पड़ोसी लक्ष्मी गुप्ता व महावीर लोधी के घरों से भी चोरों ने लाखों के जेवरात के चोरी की घटना को अंजाम दिया था। लूट और चोरी की वारदात से इलाकाई लोगों में जहाँ आक्रोश है वहीं दहशत भी व्याप्त है।

टिप्पणियाँ