रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़, दो गिरफ्तार

 रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़, दो गिरफ्तार



न्यूज़। दिल्ली में कमीशन पर दलाली-सह-संपर्क का काम करने वाले भास्कर ने एक गिरोह बनाया था जिसने हैदराबाद दिल्ली चेन्नई और पश्चिम बंगाल के छात्रों से के साथ नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी की।रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर 10 करोड़ रुपये से अधिक की कथित धोखाधड़ी करने के आरोप में हैदराबाद में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। राचकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश एम भागवत ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि पी भास्कर ने नौकरी की तलाश कर रहे 100 से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। आरोपियों ने इनसे वादा किया था कि परीक्षा में बिना कुछ लिखे रेलवे में रोजगार देंगे। पुलिस ने कहा कि दिल्ली में कमीशन पर दलाली-सह-संपर्क का काम करने वाले भास्कर ने एक गिरोह बनाया था, जिसने हैदराबाद, दिल्ली, चेन्नई और पश्चिम बंगाल के छात्रों से के साथ नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी की। आरोपियों ने उम्मीदवारों से मूल शिक्षा प्रमाण पत्र भी एकत्र किए और फर्जी आफर लेटर, मेडिकल मेमो और नियुक्ति आदेश जारी किए।


पुलिस ने कहा कि जब इन उम्मीदवारों द्वारा आरोपियों पर दबाव बनाया गया, तो गिरोह दिल्ली से भाग गया। उन्होंने बताया कि शिकायत पर मामला दर्ज किया गया और दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि धोखाधड़ी के विभिन्न मामलों में शामिल भास्कर वांछित व्यक्ति था और गिरोह के अन्य लोगों को पकड़ने के लिए जांच की जा रही है।

टिप्पणियाँ