वाराणसी में पीएम नरेन्द्र मोदी बोले-सबका साथ सबका विकास सिर्फ नारा नहीं, यह हमारा कमिटमेंट

 वाराणसी में पीएम नरेन्द्र मोदी बोले-सबका साथ सबका विकास सिर्फ नारा नहीं, यह हमारा कमिटमेंट



पीएम नरेन्‍द्र मोदी शनिवार को जनसभा को संबोधित करने पहुंचे।


वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार बनारस में विधानसभा चुनाव की अंतिम सभा को संबोधित करने सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र के खजुरी पहुंच रहे हैं। शनिवार को वाराणसी में अंतिम चरण के चुनाव के लिए प्रचार का अंतिम दिन है। जबकि सात मार्च को मतदान वाराणसी में होना है। वहीं खजुरी की जनसभा के लिए पीएम के आने से पहले ही लोगों का हुजूम सभास्‍थल पर पहुंचा। वहीं पीएम नरेन्‍द्र मोदी की जनसभा के दौरान मंच पर जिले के सभी प्रमुख पार्टी उम्‍मीदवार भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री जनसभा स्थल पर दोपहर 1.30 बजे पहुंचे और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंच पर चढ़ते ही विधायक नीलरत्न पटेल से उनके स्वास्थ्य का हाल पूछा।

पीएम ने मंच से जनता को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर वार किया। पीएम ने सपा कांग्रेस पर वार करते हुए कहा कि घोर परिवारवादी देश हित में नहीं अपने हित में काम किया। पीएम ने कहा यहीं से 2014 का डंका बजल रहल... यह इस चुनाव की आखिरी सभा है। इस सदी में कई चुनौतियां रही हैं, सरकार उन सभी चुनौतियों से बेहतर तरीके से लड़ रही है। कहा कि मित्रों मेरी यह आखिरी सभा है। उत्तर प्रदेश ने अभी तक ऐसा चुनाव नहीं देखा होगा। जब कोई सरकार विकास, सुदृण कानून व्यवस्था देने के दम पर जनता का आशीर्वाद मांग रही हो। बांदा से लेकर बहराइच तक पूरा यूपी बिना बटे एक जुट होकर कह रहा है आएगी तो भाजपा ही, आएंगे तो योगी ही। गुंडागर्दी, भाई भतीजावाद, परिवारवाद को लोग नकार चुके हैं। जो लोग केवल अपना विकास करें और अपने परिवार का विकास करे उनका साथ दोगे क्या। यह जो कहते हैं वह करते नहीं और जो नहीं कहते वह करवाते हैं। परिवारवाद के लोगों के घोषणा पत्र में दंगा तो नहीं था। पर उन्होंने पांच साल तक दंगे ही दंगे करवाए। दफ्तरों और थानों में पांच साल भाई भतीजावाद ही चलता रहा।

काशी के पुरातनता को बनाए रखते हुए आधुनिक स्वरूप देना, बिजली के तारों के जंजाल से मुक्ति, चौड़ी होती सड़कें, नए सड़क और फ्लाईओवर, 450 सौ करोड़ रुपये किसानों के खाते में पहुंचाया गया, कार्गो सेंटर, गोबर गैस प्लांट, दूध प्लांट, चावल अनुसंधान, प्राकृतिक खेती पर काम हुआ है। दस मार्च को चुनाव नतीजे आने के बाद और भी विकास और कल्याणकारी योजनाओं पर काम किया जायेगा। पहले कैंसर का इलाज मुंबई और दिल्ली में होता था अब काशी में हो रहा है। यही तो विकास है। इससे पूर्वांचल के लोगों में विश्वास बढ़ा है। 21 वीं सदी देश के लिए कुछ चुनौतियां लेकर आया है। इसमें हम अवसर खोजेंगे।आज पंचायत के चुनाव में लोग वोट देते हैं तब लोग विकास के नाम पर वोट देते हैं। तो फिर यह तो विधानसभा का चुनाव है। भारत के लोग जब संकट से जूझते हैं तब परिवारवाद के लोग उसमें मदद के बजाए और उनको संकट में डालता है। यह हमने कोरोना के समय भी देखा। और आज यूक्रेन संकट के समय में भी देख रहा हूं। नकारात्मकता इनकी विचार धारा बन गयी है। देश का खजाना भले ही खाली हो जाए लेकिन गरीबों की रसोई का चूल्हा हमेशा जलता रहे। देश की आजादी के बाद लगातार दो साल तक गरीबों को मुफ्त राशन दिया गया। यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। हमें उन गरीबों का आशीर्वाद मिलता रहा है। भाईयों बहनों आप सबने टीका लगवाया क्या। क्या आपको कहीं पैसा देना पड़ा। जब नहीं तब भी परिवारवाद के लोगों के मुंह से कभी एक सही शब्द निकला क्या। हमने दस करोड़ शौचालय बनवाया। हमें उन माताओं-बहनों का आशीर्वाद मिला है। उन माताओं-बहनों ने उसे इज्जत घर का नाम दिया है। पहले उनको शौच जाने के लिए सूरज उगने से पहले और सूरज ढलने का इंतजार करना पड़ता था। हमने उनकी कठिनाइयों को समझा और घर-घर शौचालय बनवाया। अब बताओ जरा जब स्वच्छता बढ़ेगी तब गरीबों के बच्चे बीमार नहीं पड़ेंगे, तब गरीबों का पैसा बचेगा।

आज देश ही नहीं विदेश में भी लंगड़ा आम से लेकर खादी तक का प्रचार हो रहा है। लोकल फार वोकल हो, क्‍या बनारसी साड़ी, मैं जहां-जहां जाऊं और बनारसी लंगड़ा आम के गीत गाऊं तो किसानों को फायदा होगा की नहीं? बनारसी खिलौने का प्रचार प्रसार करुं तो उन गरीबों की आय बढ़ेगी की नहीं। क्या यह गलत काम है। लेकिन हमारे विरोधी कभी इसका नाम नहीं लेते। आज दुनियाभर में योग और आयुष की धूम है। लेकिन हमारे विरोधी योग का भी विरोध करते हैं। कारण की आप योग करोगे तो निरोग रहोगे। तब मोदी- मोदी गाओगे। एक समय में खादी कांग्रेस की पहचान हुआ करती थी। मैं केवल बनारस मंडल की बात करूं तो 170 करोड़ रुपये की आय खादी को हुई है। इससे कितनों गरीब माताओं- बहनों की आय बढ़ी है।

आपके घर-परिवार में किसी का जन्मदिन हो तो उत्सव मनाते हैं कि नहीं तो हमने देश की आजादी का जन्मदिन मनाया। जिसे आजादी का अमृत महोत्सव का नाम दिया। लेकिन विपक्ष के लोग कभी इसका नाम नहीं लिए। यूपी के लोग छह चरणों में विपक्ष को नकारते हुए भाजपा को समर्थन किया है। उम्मीद है सातवें चरण में ढेर सारा आशीर्वाद पूर्वांचल के लोग देंगे। दस मार्च के बाद उज्ज्वला योजना, नए पुल और सड़कें, महिला सशक्तिकरण पर ढेर सारा काम किया जाएगा। ... और ये जो मुठ्ठी भर अपराधी हैं उनको खत्म करने का काम किया जाएगा। मैं माताओं-बहनों से कहना चाहता हूं कि आप जो मुझे ढेर सारा आशीर्वाद देने जा रही हैं उसके लिए मैं एडवांस में धन्यवाद देने यहां आया हूं।


माताओं-बहनों के अस्मिता की सुरक्षा हमारा जीवन है। कल जब मैं अपने जनता का दर्शन करने काशी की सड़क पर निकला तो उसमें भी माताओं-बहनों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। अपना दल के लिए वोट मांगना मेरा भी हक है। अनुप्रिया जी से तो परिचय बाद में हुआ। सोनेलाल पटेल जी से पुराना संबंध है। उन्होंने गरीबों के कल्याण के लिए काम किया है। आज हमें उनके अधूरे सपनों को पूरा करने का अवसर मिला है। जिसे हम करेंगे।


भाइयों-बहनों आज शाम पांच बजे चुनाव प्रचार समाप्त हो रहा है। इसका मतलब यह नहीं कि घर बैठ जाना है। आप लोगों को घर-घर जाना है। कहना है कि मोदी जी आए थे आपको प्रणाम बोले हैं। तब वह हमें दिल से आशीर्वाद देंगे। अंतिम चुनावी सभा में पुलिस के साथियों और चुनाव आयोग को शांतिपूर्ण मतदान के लिए धन्यवाद। दस मार्च को चुनावी नतीजे आने के बाद होली मनाएंगे।


बोले भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष : प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देव सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार ने 43 लाख घर बनवाया। 24 घंटे लाइट जनता को मिल रही है। पूर्वांचल के साथियों आपका एक-एक मत सैफई का किला ध्वस्त करने का काम करेगा। साथियों माता लक्ष्मी न तो हाथी पर आती हैं, न साइकिल पर सवार होकर आती हैं, न तो पंजे पर सवार होकर आती हैं आती हैं तो सिर्फ और सिर्फ कमल के फूल पर आती हैं। भाजपा ने अनेकों गरीबों का कल्याण किया है। हम वादा करते हैं कि अगले पांच साल तक और कल्याणकारी योजनाएं और विकास कार्य करेंगे।

बोलीं अनुप्रिया पटेल : अपना दल (एस) की अध्‍यक्ष अनुप्रिया पटेल ने मंच से लोगों को संबोधित किया और गठबंधन दल के प्रत्‍याशियों को जिताने की जनता से अपील की। प्रधानमंत्री का स्वागत करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा पिछडो का सबसे अधिक किसी ने चिन्ता की तो प्रधानमंत्री ने की। सातवें चरण में आप ईवीएम का बटन दबाकर भाजपा दल के गठबंधन को विजयी बनाएं।केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि काशी की धरती मेरे लिए वरदान है। पिता के निधन के बाद काशी की जनता ने ही मुझे पहचान दी है। मैं काशी की जनता का सदैव ऋणी रहूंगी। मैं जीवन भर काशी की जनता की कर्जदार हूं। आज आपके आशीर्वाद से ही अपना दल को प्रदेश में विस्तार मिल सका है। सही मायने में यदि गरीबों के कल्याण का काम किसी ने किया है तो वह भाजपा सरकार ने किया है। साथियों आपने छह चरण में जो एनडीए गठबंधन को जो आशीर्वाद दिया है। उसी तरह सातवें चरण में भी आशीर्वाद बनाकर विजय श्री का तिलक लगाएं।इस दौरान मंच पर उपस्थित प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, मंत्री अनिल राजभर, जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, विधायक सुरेंद्र सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्य, रोहनिया से प्रत्याशी डा. सुनील पटेल, अजगरा से प्रत्याशी त्रिभुवन राम।