पदयात्री शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन

 पदयात्री शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन 


शाकम्भरी नदी बाढ में रास्ते का घंन्टों किया इन्तजार



न्यूज़।जनपद सहारनपुर ब्लाक सढौली ,मिर्जापुर थाना के शाहपुर गाडा नौगाँवा के बीच शिवालिक पहाड़ियों से निकल श्री माता शाकम्भरी दरबार से प्रचण्ड वेगनीय बरसाती शाहपुर गाडा नदी पानी के बाढ में पदयात्री शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन पानी का बहाव घटने और रास्ते का इंतजार करते रहे। 

लोगो को बताया मैं उत्तर प्रदेश ग्राम खरौली ब्लाक -देवमई तहसील बिन्दकी जनपद फतेहपुर का रहने वाला हूँ। 25 मार्च 2022 अपने जन्मभूमि से पैदल

विश्वकल्याण देश की सीमा पर पहरा दे रहे फौजी भाईयों की सलामती की माता शाकम्भरी से प्रर्थना करके चण्डीगढ़,कालका, हिमांचल प्रदेश कटरा माता वैष्णो देवी होते चाईना बार्डर किश्तवाड़ श्री चण्डी‌ मचेल माता जाने को लोगो से बताया अभी मैं 4500 कि.मी पैदल पदयात्रा कर चुका हूँ कई कठिनाईयों का सामना किया 39 घन्टे हो गये यहाँ अब कुछ समझ नही आ रहा कैसे पार किया जाये कोई दूसरी रास्ता भी नही है

फिर उस भीड में शाहपुर गाडा निवासी आमीर नाम के व्यक्ति ने नदी के तेज बहाव से सर्व शक्तिमान ईश्वरीय शक्तियों का ध्यान कर जिंदगी मौत को गले लगा पदयात्री ने आमीर के साथ नदी‌  पार किया पदयात्री ने गले लगा आमीर भाई को धन्यवाद और ईश्वर से शुभमंगल जीवन की कामना किया

वहाँ पर मौजूद लोग बहुत प्रशन्न हुए कि हम

मातृभूमि भक्त एक राष्ट्र सेवक के काम आयें

हम सभी अपने को धन्य मानते है।एक दूसरे की मददत करना ही मानव धर्म है।आप हंसते मुस्काते पदयात्रा करें उपर वाले की शक्तीयां आपके अंग-संग है यह भी आपकी एक परिक्षा थी आप पास हुए सभी लोगों ने श्री वैष्णो चण्डी मचेल हनुमान भैरव का जोर जयकार लगाया।