भंडारा में श्रद्धालुओं ने छका प्रसाद

 भंडारा  में श्रद्धालुओं ने छका प्रसाद 



फतेहपुर। शनिवार को भगवान विश्वकर्मा जयंती के मौके पर मुरादीपुर कस्बे में  विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जहां श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। शायं काल श्रद्धालुओं ने विभिन्न झांकियों का दृश्य देख हुए भाव विभोर समाज सेवी विनोद विश्वकर्मा ने बताया कि आदि शिल्प प्रवर्तक मानवता के इतिहास के उस नवीन युग के प्रवर्तक हैं जब आदमी ने टूल्स और यंत्रों की खोज कर, विकास की नई कहानी लिखी थी। मानवीय क्षमता के विस्तार का वह कौशल जिसके बल पर आज मानव आकाशगंगाओं को पार कर नई दुनिया की खोज करता है, भगवान विश्वकर्मा की देन है। सृष्टि शिल्पी भगवान विश्वकर्मा हमारे ईष्ट है। इस मौके पर रमाकांत विश्वकर्मा,कुश विश्वकर्मा,राम शंकर विश्वकर्मा, उमाशंकर विश्वकर्मा,अजय विश्वकर्मा, अमित विश्वकर्मा, प्रमुख रुप से रहे मौजूद।

टिप्पणियाँ