गुरु नानक का मनाया गया 553 वा जयंती महोत्सव,देश के एकता अखंड़ता की प्रार्थना

 गुरु नानक का मनाया गया 553 वा जयंती महोत्सव,देश के एकता अखंड़ता की प्रार्थना




बांदा - जनपद में धूम धाम से मनाया गया गुरु नानक जयंती महोत्सव।गुरुद्वारे में बड़ी श्रद्धा भक्ति भाव के साथ हर्षोल्लास से मनाया गया  गुरु नानक का 553 वा जयंती महोत्सव।  गुरुद्वारे में गुरुवाणी सबद कीर्तन कर श्री गुरु ग्रंथ साहिब पर रुमाल किया अर्पित। गुरुद्वारे में देश के एकता अखंड़ता की प्रार्थना की।श्रद्धालुओं ने लंगर में लिया प्रसाद।

आपको बतादे की गुरुद्वारे के मुख्य ग्रन्थी संत अमरलाल ने बताया कि श्री गुरु नानक का जन्म सन् 1469 में कार्तिक की पूणिर्मा को तिलवंडी ग्राम में हुआ था जिनके पिता का नाम महिता कल्याण दास था और माता का नाम तृिपदा था 

गुरु नानक के तीन उपदेश थे।

 पहला हक हलाल की कमाई करना दूसरा बाँट के खाना।

तीसरा नाम जपना उनके अनुयायी आज भी इन उपदेशो को पालन करते हैं। गुरु नानक जयंती पर नाचे झूमे और खुशियों का इजहार किया 553 वे प्रकाशउत्सव का केक काटा गया

टिप्पणियाँ
Popular posts
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
राजस्व टीम ने ग्राम सभा की नवीन परती जमीन को कब्जेदारों से कराया मुक्त
चित्र
जिलाधिकारी दीपा रंजन ने विकास खण्ड बिसण्डा के सभागार में ग्राम प्रधानों के साथ की समीक्षा बैठक
चित्र
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
चोरी की पांच मोटर साइकिलों समेत पांच गिरफ्तार
चित्र