मटिहा गांव में तीस वीघे गेहूं की फसल जल कर राख फतेहपुर।असोथर थाना क्षेत्र के मटिहा गांव में ग्यारह किसानों के खेतों में खड़ी गेहूं की फसल जल कर राख हो गई किसानों ने एकजुट होकर किसी तरह से आग को काबू किया। लेखपाल प्रदीप कुमार व धर्मेन्द्र कुमार चौकी इंचार्ज विनोद निगम मौके पर पहुंचकर किसानों कि फसल के नुकसान का आकलन किया तथा फसल में आग लगाने वाले को पुलिस चौकी सरकंडी बुलाया गया है। फसल के साथ किसानों के अरमान भी खाक हो गये कई किसानों के यहां शादी होनी है। गेहूं के खेतों के बगल से महुआ की बाग है महुआ बीनने के लिए पेड़ के नीचे पड़ी पतियों को मटिहा गांव के ननबुद उर्फ शिवप्रकाश दर्जी आग लगाकर जला रहे थे तेज हवा के चलते आग गेहूं के खेतों को पकड़ लिया किसानों की फसल जलने लगी चीख पुकार सुनकर किसान खेतों की तरफ दौड़ पड़े आसपास के किसानों के द्वारा कड़ी मशक्कत से आग में काबू पाया गया सूचना के बाद भी दमकल नहीं पहुंची और तीस वीघे में खड़ी गेहूं की फसल जल कर राख हो गई चौकी इंचार्ज विनोद कुमार निगम बाल्टी में पानी लेकर आग बुझाने लगे। शिवशंकर, कमला देवी माताबदल निषाद प्रेम तिवारी मनोज यादव रामचरण सविता की फसल जली है दस दिन पहले इसी जगह मंदिर के पास भी आग लगी थी। इस आगजनी में राजकरन तिवारी , परमानंद तिवारी की फसल सबसे ज्यादा जली है ।

 मटिहा गांव में तीस वीघे गेहूं की फसल जल कर राख


फतेहपुर।असोथर थाना क्षेत्र के मटिहा गांव में ग्यारह किसानों के खेतों में खड़ी गेहूं की फसल जल कर राख हो गई किसानों ने एकजुट होकर किसी तरह से आग को काबू किया।

लेखपाल प्रदीप कुमार व धर्मेन्द्र कुमार चौकी इंचार्ज विनोद निगम मौके पर पहुंचकर किसानों कि फसल के नुकसान का आकलन किया तथा फसल में आग लगाने वाले को पुलिस चौकी सरकंडी बुलाया गया है। फसल के साथ किसानों के अरमान भी खाक हो गये कई किसानों के यहां शादी होनी है। 

गेहूं के खेतों के बगल से महुआ की बाग है महुआ बीनने के लिए पेड़  के नीचे पड़ी पतियों को मटिहा गांव के ननबुद उर्फ शिवप्रकाश दर्जी आग लगाकर जला रहे थे तेज हवा के चलते आग गेहूं के खेतों को पकड़ लिया किसानों की फसल जलने लगी चीख पुकार सुनकर किसान खेतों की तरफ दौड़ पड़े आसपास के किसानों के द्वारा कड़ी मशक्कत से आग में काबू पाया गया  सूचना के बाद भी दमकल नहीं पहुंची और तीस वीघे में खड़ी गेहूं की फसल जल कर राख हो गई चौकी इंचार्ज विनोद कुमार निगम बाल्टी में पानी लेकर आग बुझाने लगे। शिवशंकर, कमला देवी माताबदल निषाद प्रेम तिवारी मनोज यादव रामचरण सविता की फसल जली है दस दिन पहले इसी जगह मंदिर के पास भी आग लगी थी। इस

आगजनी में राजकरन तिवारी , परमानंद तिवारी की फसल सबसे ज्यादा जली है ।


टिप्पणियाँ
Popular posts
कार ने हाइवे पार कर रही महिलाओं को कुचला, चार की मौत
चित्र
चुनाव ड्यूटी में आये हरदोई का रहने वाला होमगार्ड की बिगड़ी तबियत डॉक्टर ने किया मृत घोषित
चित्र
स्ट्रांग रूम में रखे ईवीएम मशीन के सुरक्षा व्यवस्था का एसपी ने लिया जायजा
चित्र
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
विश्वकर्मा समाज से सपा गठबंधन के पक्ष मांगे वोट-रामासरे विश्वकर्मा
चित्र