कोरोना संक्रमण से ठीक होने के छह माह बाद मरीजों के फेफड़ों में मिल रहा ब्लॉकेज

कोरोना संक्रमण से ठीक होने के छह माह बाद मरीजों के फेफड़ों में मिल रहा ब्लॉकेज


(न्यूज़)।कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले गंभीर मरीजों में रिकवरी काफी कम देखने को मिल रही है लेकिन जो संक्रमण को हराने में कामयाब हो रहे हैं।उनमें 3 से 6 माह बाद फेफड़ों में ब्लॉकेज मिल रहा है।अब तक ऐसे कई मरीज सामने आ चुके हैं जिन्हें संक्रमण से रिकवर होने के बाद भी अस्पताल में आकर भर्ती होना पड़ा।दिल्ली सहित देश के कई महानगरों के अस्पतालों में यह स्थिति मिल रही है।जानकारी के अनुसार, अब तक 100 से भी अधिक ज्यादा मरीज मिल चुके हैं जो कोरोना संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हो गए लेकिन बाद में उन्हें फेफड़ों से जुड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।डॉक्टरों के अनुसार, यह कोरोना संक्रमण के बाद वाले दुष्प्रभाव हैं।इंग्लैंड के नेशनल हेल्थ सर्विसेज के सलाहकार डॉ. अशोक जैनर का कहना है कि दुनिया के कई देशों में यह ऐसे ही देखने को मिल रही है लेकिन भारत में यह तेजी से सामने आ रही हैं।एक और देश में 93 फीसदी के करीब रिकवरी दर है।वहीं संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों की निगरानी ना होने की वजह से पोस्ट कोविड स्थिति का सही आकलन भी नहीं हो पा रहा है।कुछ मामले तो ऐसे हैं जिनमें संक्रमण से ठीक होने के 2 सप्ताह बाद ही फेफड़ों को नुकसान पहुंचने की जानकारी मिली।


Popular posts
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
एसडीओ बिंदकी ने कहा कि समय से बिल जमा करें योजना का लाभ उठाएं
इमेज
तिन्दवारा गांव में बहू व ससुर ने लगाई फांसी बहू की मौत ससुर जिला अस्पताल में भर्ती जहां जिंदगी और मौत से लड़ रहा है
इमेज