निर्जल व्रत रख सुहागिनों ने किया चांद का दीदार

निर्जल व्रत रख सुहागिनों ने किया चांद का दीदार


फतेहपुर। सुहागिन महिलाओं ने बुधवार को करवाचौथ का  पर्व धूमधाम से मनाया। पति की लंबी आयु के लिए महिलाओं ने दिनभर निर्जला व्रत रखा । जैसे ही  रात के 8.44 मिनट में चंद्रमा दिखा तो महिलाओं ने कथा सुनकर चंद्रमा का पूजन किया । पतियों ने भी अपना कर्तव्य निभाते हुए पत्नी को पानी पिलाकर व्रत पूरा कराया। और साथ ही  उपहार भी  भेंट किया  । पति ने पत्नीयों से  हमेशा साथ रहने का वादा किया । जनपद फतेहपुर कस्बा बिंदकी नई कालोनी निवासी  सुकन्या सैनी ने बताया ने  कि उनका यह पहला करवाचौथ है जिसे लेकर वह बहुत खुश है और ऐसे त्योहार मनाने में बहुत अच्छा लगा । वहीं सुकन्या सैनी  ने बताया कि मेरी  सास विमला सैनी पिछले 40 सालों से करवाचौथ का निर्जला व्रत रख रही है  दिनभर बिना पानी पिए व्रत रखना आसान नहीं होता । लेकिन  यह रीति रिवाज है जिसे हमें मानना पड़ता है सास की देखरेख और उनके आशीर्वाद से  मेरा पहला करवाचौथ सकुशल रहा । पूजा समाप्त के  बाद सुहागिन महिलाओं ने पतियों के साथ छलनी में चेहरा व चांद देखते हुए फोटो को व्हाट्सएप की डीपी, स्टेटस, फेसबुक आदि सोशल साइट  पर शेयर किया।  साथ ही हैशटैग कर  मेहंदी की तस्वीरें, शॉपिंग की तस्वीरों को भी साझा की । इससे पहले निर्जला व्रत रहीं महिलाएं शाम 7:30 बजे से ही परिवार के साथ छतों पर पहुंचकर चंद्रोदय का इंतजार करने लगीं।  हाथों में मेंहदी सजाए सुबह से ही  महिलाएं बाजार में खरीदारी करने पहुंचीं।  वहीं ब्यूटी पार्लर भी गुलजार नजर आए। ऐसी मान्यता है कि करवे की टोटी से जाड़ा निकलता है। ऐसे में करवाचौथ के बाद ठंड में इजाफा होने लग जाता है।