कानपुर में फर्जी असलहा मामले की जांच अब एसआईटी करेगा

 कानपुर में फर्जी असलहा मामले की जांच अब एसआईटी करेगा 



दरअसल 5000 से अधिक असलहा लाइसेंस की फाइलें संदिग्ध मिलने के बाद डीएम इसकी जांच  एसआईटी से कराने को लेकर शासन को लिखा है। अब इससे जुड़ा एक और मामला सामने आया है विभागीय सत्यापन में पाया गया कि 800 से अधिक असलहा फाइलें ऐसी भी हैं जो नहीं मिल रही है ।अब उन्हें खोजने के लिए असलहा अनुभाग में तैनात पूर्व कर्मचारी को भी तैनात किया जाएगा।बिकरु में विकास दुबे और उसके साथियों ने सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी इसके बाद विकास दुबे और उसके साथियों को मुठभेड़ में मार गिराया गया था इस मामले की एसआईटी जांच शुरू हुई तो कानपुर के असलाह अनुभाग में भी असलाह सत्यापन शुरू हुआ इस सत्यापन में पता चला कि बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा हुआ है।विकास दुबे और पूर्व मंत्री कमल रानी वरुण समेत 131 लोगों के असलहा लाइसेंस की फाइलें गायब है। मामले में लिपिक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ था।एसएसपी ने बताया की कोतवाली पुलिस मामले की जाँच कर रही है ओर सासन को सीबीसीआईडी से जाँच करवाने के लिये साशन को पत्र लिख दिया गया है जब तक  सीबीसीआईडी से जाँच के आदेश नही होते तब तक कोतवाली पुलिस इस मामले की जाँच करेगी  और जो अधिकारी दोषी पाये जाएंगे उनके खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
बंदूक के साथ फोटो खिचवाते समय दब गया ट्रिगर, महिला की मौत
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र
आज हम बात करेंगे फूलन देवी के सहादत दिवस के अवसर पर बात करेंगे कि फुलवा से कैसे फूलन बनी फूलन देवी का विस्तृत परिचय
चित्र