एजेंटों के हवाले हुआ फतेहपुर जनपद का प्रधान डाकघर

 एजेंटों के हवाले हुआ फतेहपुर जनपद का प्रधान डाकघर



शहर/फतेहपुर 


मामला है फतेहपुर सदर के प्रधान डाक घर का जहा एजेंटो का बोलबाला चरम पर है।


निकासी, जमा, फ, ड़ी जैसे सारे काम आला अधिकारियों के कुर्सी पर बैठकर अंजाम देते हैं काम पूरा होने पर कस्टमर से मोटी रकम वसूलते हैं गुप्त तरीके से इसकी जांच करने पर इस मामले को सत्य पाया गया तत्पश्चात एन डी न्यूज़ के रिपोर्टर


आला अधिकारियों से बात करने की कोशिश की बात होने के उपरांत अधिकारियों की तरफ से यह जवाब मिला कि स्टाफ की कमी होने के कारण एजेंटों को कार्य करने की अनुमति दी गई है अगर ऐसा ही चलता रहा तो आने वाले समय में जिस निजी करण की बात सरकार द्वारा की जाती है वहीं निजी करण प्रधान डाकघर में भी देखने को मिल सकता है।ग्राहको की माने तो ये सारा खेल उच्च अधिकारियों के संज्ञान में होता है जिसका असर सीधे जनता पर पड़ता है किसी कार्य को करने के लिए जहा अला अधिकारियों के द्वारा जनता को जागरूक करने का काम होता है वही उनके ही सीट पर बैठे उनके गुर्गे सारे कार्यो को अनजाम देते है जिसका वो कस्टम से अलग से 500से 1000 तक लेते है

Popular posts
सपा नेत्री के नेतृत्व में निकाला गया कैंडल जलूस
इमेज
उम्मेदपुर गांव में गलत तरीके से सरकारी राशन की दुकान आवंटित किए जाने से नाराज सैकड़ों महिलाओं ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
इमेज
मलवा ब्लाक में CDPO से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पीड़ित, हो रही अवैध वसूली 
इमेज
हवन पूजन के पश्चात स्थान दूधी कगार शोभन सरकार का मेला शुक्रवार से शुरू
इमेज
विश्व का पहला देश इटली ने कोविड-19 से मृत शरीर का पोस्टमार्टम कराकर पता किया कि शरीर में कोरोना वायरस नहीं है