शराब के ठेकों पर बिक रही मिलावटी शराब

 शराब के ठेकों पर बिक रही मिलावटी शराब


खजुहा कस्बे में प्रिंट रेट से अधिक ले रहे हैं पैसे


शराब की कैंटीनो मे बऱती जा रही अनियमितताएं

प्रतिबंधित गिलास पानी का हो रहा उपयोग



बिंदकी फतेहपुर

अंग्रेजी में हो या देसी शराब उनके सेल्समैन मनमानी कर रहे है शराब के अनुज्ञापी ना चाह कर भी उनके  ठेको  पर बैठे सेल्समैन अपनी मनमानी करते हुए मिलावटी शराब शराब माफियाओं से खरीद कर बेचने से नहीं कतराते रही बात तो जगजाहिर है कि प्रतिबंधित प्लास्टिक के गिलास एवं पानी का मनमाना पैसा वसूलते हैं बिंदकी के शराब  की दुकान का एक सेल्समैन का कहना था कि  मालिक इतनी तनख्वाह नहीं देते जितनी ड्यूटी लेते हैं मजबूरन गिलास पानी महंगे दामों पर बेचना मजबूरी हो जाती है। जब उस सेल्समैन से मिलावटी शराब के विषय में पूछा तो उसका सटीक कहना था कि पेट के लिए कुछ ना कुछ करना पड़ता है।

वही खजुहा कस्बे मे लंका मैदान स्थित लखना खेड़ा के अंग्रेजी शराब के ठेके पर बैठे सेल्समैन प्रिंट रेट से अधिक पैसे वसूल रहे हैं शराब के पीने वालों का कहना है कि उक्त सेल्समैन क्वार्टर में ₹10 अधिक तथा अधि में ₹20 एवं बोतल में ₹50 अधिक लेते हैं इस बाबत जब आबकारी ईस्पेक्टर से संपर्क साधना चाहा तो मुलाकात नहीं हो सकी। शराब ठेकों के सेल्समैनो से आबकारी विभाग का मोबाइल नंबर मांगा तो देने से इनकार कर दिया।