फसल का नुकसान करने की शिकायत ग्रामीणों ने पुलिस से किया

 फसल का नुकसान करने की शिकायत ग्रामीणों ने पुलिस से किया


----- आलू मटर तथा हरे चारे का  नुकसान कर रहे पड़ोसी गांव के लोग

---- पुलिस ने कार्रवाई कर न्याय दिलाने का भरोसा दिया

बिंदकी फतेहपुर

सैकड़ों ग्रामीण पुलिस के पास पहुंचे और शिकायत किया कि पड़ोसी गांव के कई लोग उनकी फसल का नुकसान कर रहे हैं आलू मटर कैसे ले जाते हैं इसके अलावा हरे चारे का भी नुकसान कर रहे हैं मना करने पर उल्टा गाली गलौज करते हो मारपीट पर आमादा होते हैं पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लिया और कहा कि जल्द ही इस मामले का निस्तारण करेंगे और आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का भी भरोसा दिया गया

       मामला कोतवाली क्षेत्र के सैलावन गांव का है। इस गांव के सैकड़ों लोग पहले खजुहा चौकी पहुंचे और चौकी इंचार्ज को एक शिकायती पत्र दिया जिसमें कहा गया कि पड़ोसी गांव कंचनपुर के कई लोग उनके आलू मटर सहित कई फसलों का नुकसान करते हैं यहां तक कि हरा चारा भी काट ले जाते हैं मना करने पर गाली गलौज कर मारपीट पर आमादा हो जाते हैं यही नहीं जब ग्रामीणों को जानकारी हुई कि एडिशनल एसपी राजेश कुमार कोतवाली बिंदकी पर सर आए हैं तो ग्रामीण वहां भी पहुंच गए और अपर पुलिस अधीक्षक से भी पूरे मामले की शिकायत किया कहा कि लगातार पड़ोसी गांव के कंचनपुर के लोग उनकी फसलों का नुकसान कर रहे हैं जिसके चलते वह लोग लगातार परेशान हैं मना करने पर भी नहीं मानते हैं अपर पुलिस अधीक्षक ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि इस मामले में जांच कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी और फसलों का नुकसान बचाया जाएगा इस मौके पर सिलावन गांव के रहने वाले ग्रामीण मयंक उत्तम राजेंद्र उत्तम राहुल उत्तम दिनेश कुमार अभिषेक विमल कुमार शिवम गजेंद्र सुशील कुमार गोविंद उत्तम शिवकुमार उत्तम शोभित उत्तम सचिन हरिशंकर स्वतंत्र उत्तम रामनाथ बाबू यादव इंद्रपाल सोनकर ओमप्रकाश नवनीत करण कुमार सहित सैकड़ों किसान मौजूद रहे

Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
बंदूक के साथ फोटो खिचवाते समय दब गया ट्रिगर, महिला की मौत
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र
आज हम बात करेंगे फूलन देवी के सहादत दिवस के अवसर पर बात करेंगे कि फुलवा से कैसे फूलन बनी फूलन देवी का विस्तृत परिचय
चित्र