संदिग्ध परिस्थितियों में साधू की मौत घटनास्थल पहुंचे पुलिस कप्तान ने दिए खुलासे के निर्देश

 संदिग्ध परिस्थितियों में साधू की मौत घटनास्थल पहुंचे पुलिस कप्तान ने दिए खुलासे के निर्देश



फ़तेहपुर।चांदपुर थाना क्षेत्र के गोविंदपुर बिलारी गांव में लगभग 20 वर्षों से रह रहे कसया पुर गांव के बाबा रामदास उम्र 50 वर्ष नरैया धाम के नाम से कुटिया बनाकर रह रहे थे आज समय लगभग 11:12 बजे कुटिया के पड़ोसी रामकिशोर बाबा को बुलाने के लिए पहुंचे तो बाबा ने कोई आवाज नहीं लगाई इस बात से सशंकित होकर रामकिशोर ने ग्रामीण जनों को मौके में बुलाकर आश्रम का दरवाजा खुलवाया तो देखा कि बाबा रामदास मृत अवस्था में पड़े हुए ग्रामीणों ने बाबा को मृत देखकर उनके गांव कसियापुर में परिजनों को सूचना दी सूचना मिलने पर मौके में पहुंचे परिजनों ने हत्या की आशंका जाहिर कर चांदपुर थाने में लिखित शिकायती पत्र दिया सूचना मिलने पर मौके में पहुंचे चांदपुर एसओ दीनदयाल सिंह ने मौका मुआयना कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है। एसओ ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सतपाल अंतिल व सीओ जाफरगंज मौके पर पहुचेऔर घटनास्थल का निरीक्षण किया। उन्हीनेघटना के खुलास के निर्देश दिए। वही ग्रामीणों को संदेह है कि कल मृतक बाबा के पास तीन लोग आए हुए थे कहीं मौत का कारण वही से तो नहीं है गांव के रहने वाले कुछ ग्रामीणों का कहना है कि बाबा लगभग 20 वर्षों से यहां रह रहे थे यही रह कर बाबा झाड़-फूंक का भी काम करते थे मृतक बाबा रामदास अपने परिवार से दूर गोविंदपुर बिलारी गांव मैं बने नरैया धाम आश्रम में ही रहते थे।