कृषि कानून वापस लेने की मांग पर भाकियू के लोग दिल्ली जाएंगे या फिर क्षेत्र में करेंगे चक्का जाम

 कृषि कानून वापस लेने की मांग पर भाकियू के लोग दिल्ली जाएंगे या फिर क्षेत्र में करेंगे चक्का जाम

भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट की हुई बैठक

हाईकमान के आदेश का इंतजार

सरकार द्वारा किसान आंदोलन को समाप्त करने के प्रयास पर जताई गई नाराजगी


गिरिराज शुक्ला

बिंदकी फतेहपुर

भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट की एक आवश्यक बैठक हुई जिसमें कृषि कानून वापस लेने की मांग की गई बैठक में दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन किया गया तथा केंद्र सरकार द्वारा आंदोलन को समाप्त करने के प्रयास पर गहरी नाराजगी भी जताई गई और सरकार विरोधी नारे भी लगाए गए बैठक में कहा गया कि यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष युवा जिला अध्यक्ष दिल्ली गए हैं हाईकमान के नेताओं की बैठक के बाद जो निर्णय होगा उसके अनुसार फतेहपुर जनपद के यूनियन के लोग या तो दिल्ली जाएंगे फिर या फतेहपुर जनपद के विभिन्न स्थानों पर चक्का जाम करने का काम करेंगे

        जानकारी के अनुसार शुक्रवार को अपराह्न करीब 2:00 बजे भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट की एक बैठक नगर के समीप फरीदपुर मोड़ स्थित एसएस गार्डन परिसर में हुई बैठक में कृषि कानून को काला कानून बताते हुए इसे वापस लेने की मांग की गई बैठक में मौजूद भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुटके जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने कहा कि हम सभी लोग दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन करते हैं और केंद्र सरकार द्वारा किसानों के आंदोलन को समाप्त करने का जो प्रयास किया गया है उसकी जितना भी निंदा की जाए कम है इस मौके पर यूनियन के तहसील अध्यक्ष देवनारायण पटेल ने कहा कि कि देश के ही किसानों ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का काम किया जिसके चलते नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने यही सरकार यही नरेंद्र मोदी अब किसानों का विरोध कर रहे हैं इसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम है निश्चित रूप से उनका यह अहंकार टूटेगा और आने वाले संघ समय में ना केंद्र में भाजपा की सरकार रहेगी और न ना ही नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे। उन्होंने कहा कि उनके यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान तथा तथा फतेहपुर जनपद के जिला अध्यक्ष राजकुमार सिंह गौतम दिल्ली में चल रहे आंदोलन में गए हैं और निश्चित रूप से वहां पर राष्ट्रीय स्तर की बैठक में जो भी निर्णय लिया जाएगा उसी के अनुसार फतेहपुर जनपद के भी यूनियन के लोग काम करेंगे यदि आदेश होता है कि दिल्ली आंदोलन में शामिल हो तो यहां के सभी लोग दिल्ली पहुंचेंगे और यदि आदेश हुआ कि क्षेत्र में रहकर ही आंदोलन करें तो निश्चित रूप से जनपद के विभिन्न स्थानों पर चक्का जाम कर कृषि कानून का विरोध किया जाएगा और यह आंदोलन तब तक चलता रहेगा जब तक कि कृषि कानून वापस नहीं ले लिया जाता है इस मौके पर भारतीय किसान यूनियन के तहसील प्रचार मंत्री सुखीराम के अलावा भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के नेता अंगद सिंह सुरेंद्र सिंह पटेल ज्ञानेंद्र सिंह बाबू सिंह राजभवन जय सिंह मुन्ना सिंह कप्तान जयनारायण राजकुमारी देवी रामसखी देवी चंपा देवी रोहित पटेल मुकेश पटेल मनी रामपाल जयपाल दिनेश बाबा चंद्रपाल बाबूलाल अशोक कुमार सचिन कुमार तथा राकेश कुमार सहित तमाम लोग मौजूद रहे

Popular posts
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
तिन्दवारा गांव में बहू व ससुर ने लगाई फांसी बहू की मौत ससुर जिला अस्पताल में भर्ती जहां जिंदगी और मौत से लड़ रहा है
इमेज
कोतवाली प्रभारी तथा सब इंस्पेक्टर को दी गई भावभीनी विदाई
इमेज