विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनान्तर्गत ऋण एवं टूल किट वितरण कार्यक्रम का बिंदकी विधायक ने दीप प्रज्वलित कर किया शुभारम्भ

 एक जनपद एक उत्पाद व

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनान्तर्गत ऋण एवं टूल किट वितरण कार्यक्रम का बिंदकी विधायक ने दीप प्रज्वलित कर किया शुभारम्भ



फतेहपुर।प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वराजेगार कार्यक्रम एवं एक जनपद एक उत्पाद व

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजनान्तर्गत ऋण एवं टूल किट वितरण कार्यक्रम का शुभारम्भ इरा गार्डेन नउवाबाग में मुख्य अतिथि विधायक बिन्दकी करन सिंह पटेल ने दीप प्रज्जवलित कर किया । उन्होने कहा कि केन्द्र/प्रदेश सरकार की बहुत सी योजनाएं चल रही है जिसमें नवयुवक ऋण लेकर अपना स्वंय का रोजगार करें और बैंक से मिलने वाले ऋण का उसी कार्य में लगाये, रोजगार से अपने परिवार का भरण पोषण करे व बैंक से लिये गये ऋण का समय से जमा करें ।  प्रधानमंत्री का नारा है कि हमारे नवजवान व

किसान रोजगार व कृषि से अपनी आय बढ़ा सकते है ।

मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने कहा कि कार्यक्रम ऋण एवं टूल किट का वितरण का

उद्देश्य है कि आप लोग आने वाले दिनों में रोजगार से जुड़े, कुछ लोग पहले से जुड़े है । ऋण प्राप्त

लाभार्थियों से अपेक्षा की गयी कि वे दिये गये ऋण का सदुपयोग करें बैंक का ऋण समय से अदा करें। इसके अलावा अपने उद्योग में अन्य बेरोजगारों को भी रोजगार प्रदान करे एवं टूलकिट लाभार्थियों से भी

अनुरोध किया कि उन्हें जिस ट्रेड का टूलकिट प्रदान किया जा रहा है वे वह कार्य अवश्य करें ताकि शासन की मंशा पूर्ण हो सके।

उपायुक्त उद्योग एस० सिद्दीकी ने बताया कि शासन की बहुत सारी जन कल्याणकारी योजनाएं चल

रही है-जैसे प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यक्रम एवं मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत रू0 10 लाख से अधिकतम रू0 25 लाख का ऋण दिया जाता है। स्पेशल कम्पोनेन्ट योजना में अनुसूचित एवं जनजाति के व्यक्तियों को स्वरोजगार बनाने हेतु 04 माह का सामूहिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है जिसमें 01 वर्ष सैद्धान्तिक एवं तीन माह का व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया जाता है, आयु 18 से अधिकतम 45 वर्ष ।प्रशिक्षण के दौरान जलपान एवं यात्रा भत्ता हेतु प्रशिक्षणर्थियों को प्रतिमाह रू0 1250 देय है। उ0प्र0 सूक्ष्म एवं लघु उद्योग तकनीकी उन्नयन योजना में योजनागत तकनीकी की खरीद और आयात में व्यय की गयी घनराशि का 50 प्रतिशत (अधिकतम रू0 02 लाख) अनुदान दिया जाता है। उत्पादन में वृद्धि एवं गुणवत्ता में सुधार हेतु मशीनरी एवं सयंत्र में व्यय की गयी धनराशि का 50 प्रतिशत(अधिकतम 02 लाख) का अनुदान दिया जाता है। मुख्यमंत्री हस्त शिल्प योजना में 60 वर्ष या अधिक के आयु के हस्तशिल्पियों को प्रतिमाह रू०500 पेंशन दिये जाने का प्राविधान है।

आज प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, के अन्तर्गत 10 लाभार्थियों को रु0 186.00 लाख, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत 06 लाभार्थियों को रु0 92.00 लाख एवं एक जनपद एक उत्पाद वित्त पोषण सहायता योजना के अन्तर्गत 05 लाभार्थियों को रु0 83.00 लाख, इस प्रकार तीनों योजनाओं में कुल मिलाकर रू0 361.00 लाख रूपये के ऋण स्वीकृत/वितरण के प्रमाण पत्र वितरित किये गये। इसके अतिरिक्त एक जनपद एक उत्पाद प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजनान्तर्गत 25 लाभार्थियों एवं विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अन्तर्गत दर्जी ट्रेड के 15 व नाई ट्रेड के 10 प्रशिक्षार्थियों को टूलकिट का वितरण भी किया गया तथा ऋण लाभार्थियों को उद्योग स्थापित करने के लिये शुभ कामनाएं दी गयी।

इस अवसर पर क्षेत्रीय प्रबन्धक बैंक आफ बड़ौदा अतुल कुमार खरे, अग्रणी जिला प्रबन्धक वी0डी0 मिश्र, चेयरमैन, आई0आई0ए0 सतेन्द्र सिंह सहित लाभार्थी उपस्थित रहें।

Popular posts
नर्सिंग होम में चिकित्सक की लापरवाही से बालक की मौत को लेकर हुआ हंगामा, संचालक गिरफ्तार
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज
बकाया विद्युत बिल जमा ना होने पर काटे जाएंगे कनेक्शन--- एक्सईएन विद्युत विभाग
इमेज
पड़ोसी ने किया पांच वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज