प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार विधायक निधि बहाल करने को तैयार

 प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार विधायक निधि बहाल करने को तैयार



न्यूज़।देश के साथ उत्तर प्रदेश में भी कोरोना वायरस संक्रमण का असर कम होने से लगभग सारी गतिविधि फिर से पटरी पर है। इसी क्रम में योगी आदित्यनाथ सरकार भी उत्तर प्रदेश विधानमंडल का बजट सत्र आहूत कर रही है। विधान मंडल का बजट सत्र 18 फरवरी से शुरू हो रहा है, जिसमें 22 फरवरी को उत्तर प्रदेश का बजट पेश होगा। इस बजट में प्रदेश सरकार की योजना विधायक निधि बहाल करने की भी है। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सरकार ने विधायक निधि को रोक दिया था।उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार 22 फरवरी को पांचवां बजट पेश करेगी। इस बार बजट में सरकार का फोकस 2022 के विधानसभा चुनाव पर भी रहेगा। इसी क्रम में विधायक निधि को भी बहाल करने की योजना है। कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से विधायक निधि को सस्पेंड किया गया था। सरकार इस बार के बजट में इसकी बहाली को घोषणा भी सरकार कर सकती है। इस निधि की राशि पिछले बजट में दो करोड़ से बढ़ाकर तीन करोड़ की गई थी, लेकिन कोरोना संकट की वजह से सरकार ने मौजूदा वित्तीय वर्ष स्थगित कर दिया था। अब सरकार को भी 2022 के चुनाव की तैयारी करनी है, इसी कारण विधायक निधि को बहाल किया जा सकता है।

Popular posts
ब्लाक प्रमुख निधि से खजुहा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बन रहे रैन बसेरा में ठेकेदार कर रहा अपनी मनमानी।
इमेज
प्रेमी युगल ने पेंड में लटक कर दी अपनी जान
इमेज
पर्यवेक्षक द्वारा औचक निरीक्षण किए जाने से महाविद्यालयों में मची खलबली
इमेज
शराब पीने वालों के लिए खुशखबरी, अब बाजार में सस्ती मिलेगी ये वाइन
इमेज
पाक्सो एक्ट में नामजद अभियुक्त गिरफ्तार गिरिराज शुक्ला
इमेज