शराब के ठेकों पर बिक रही मिलावटी शराब खजुहा कस्बे में प्रिंट रेट से अधिक ले रहे हैं पैसे

 शराब के ठेकों पर बिक रही मिलावटी शराब

खजुहा कस्बे में प्रिंट रेट से अधिक ले रहे हैं पैसे


गिरिराज शुक्ला

बिंदकी फतेहपुर अंग्रेजी में हो या देसी शराब उनके सेल्समैन मनमानी कर रहे है शराब के अनुज्ञापी ना चाह कर भी उनके  ठेको  पर बैठे सेल्समैन अपनी मनमानी करते हुए मिलावटी शराब शराब माफियाओं से खरीद कर बेचने से नहीं कतराते रही यह बात तो जगजाहिर है कि खजुहा में शराब प्रिंट रेट से अधिक दामों में बेची जा रही हैकभी कभी तो रात्रि दस बजे के बाद मनमाना पैसा वसूलते हैं बिंदकी के शराब  की दुकान का एक सेल्समैन का कहना था कि  मालिक इतनी तनख्वाह नहीं देते जितनी ड्यूटी लेते हैं मजबूरन महंगे दामों पर बेचना मजबूरी हो जाती है। जब उस सेल्समैन से मिलावटी शराब के विषय में पूछा तो उसका सटीक कहना था कि पेट के लिए कुछ ना कुछ करना पड़ता है।

वही खजुहा कस्बे मे लंका मैदान स्थित लखना खेड़ा के अंग्रेजी शराब के ठेके पर बैठे सेल्समैन प्रिंट रेट से अधिक पैसे वसूल रहे हैं शराब के पीने वालों का कहना है कि उक्त सेल्समैन क्वार्टर में ₹10 अधिक तथा अधि में ₹20 एवं बोतल में ₹50 अधिक लेते हैं इस बाबत जब आबकारी ईस्पेक्टर से संपर्क साधना चाहा तो मुलाकात नहीं हो सकी। शराब ठेकों के सेल्समैनो से आबकारी विभाग बिन्दकी से जब अधिक रूपए लेने की बात पर कहा कि जल्द जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र