जनपद बांदा में स्थानीय भूरागढ किला परिसर में सुहेलदेव जयन्ती मनायी गयी

 जनपद बांदा में स्थानीय भूरागढ किला परिसर में सुहेलदेव जयन्ती मनायी गयी



बाँदा - स्थानीय भूरागढ़  जिला परिषद  में  मनाई गई सुहेलदेव  जयंती  वहां पर मौजूद विधायक तिन्दवारी बृजेश प्रजापति ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमें अपने पुराने गौरवशाली इतिहास से प्रेरणा लेनी चाहिए। महाराज सुहेलदेव ने आक्रमणकारी को परास्त कर देश के स्वाभिमान की रक्षा की थी।

प्रजापति ने कहा कि भूरागढ़ का किला भी एक ऐतिहासिक स्थल है तथा यहां पर अनेक स्वतंत्रता सेनानियों को फांसी दी गयी थी। उन्होंने कहा कि जो समाज अपने इतिहास को भूल जाता है वो कभी आगे नही बढ पाता है।

जिलाधिकारी बांदा आनन्द कुमार सिंह ने महाराजा सुहेलदेव की जयंती समारोह के अवसर पर कहा कि भारतवर्ष के इतिहास में मध्यकाल की 11 वीं सदी में उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में महाराजा सुहेलदेव एक प्रतापी राजा हुए थे जिन्होंने विदेशी आक्रान्ताओं से भारतीय संस्कृति एवं विरासत की रक्षा की थी।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र