दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना अंतर्गत आवेदन करने वाले छात्र-छात्राएं शिक्षण संस्थान पहुंचकर त्रुटियों में करे सुधार

 दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना अंतर्गत आवेदन करने वाले छात्र-छात्राएं शिक्षण संस्थान पहुंचकर त्रुटियों में करे सुधार



फतेहपुर।जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी मुदित श्रीवास्तव ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में समस्त वर्ग के दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना अंतर्गत जिन छात्र/छात्राओ द्वारा वार्षिक परीक्षाफल /दोनों सेमेस्टर का परीक्षाफल न निकलने की दशा में Result Not Yet Declared ऑप्शन चुनते हुए ऑनलाइन आवेदन किया गया था, ऐसे सभी छात्रों का डाटा संदेहास्पद श्रेणी में है । इसके अतिरिक्त जिन छात्र-छात्राओं द्वारा आवेदन भरने में कोई गलती किसी कारणवश हो गई है इनका भी डाटा संदेहास्पद श्रेणी के अंतर्गत है। संदेहस्पद श्रेणी के समस्त आवेदन पत्रों को छात्र-छात्रा तथा शिक्षण संस्था के लागिन पर उपलब्ध करा दिया गया है । सभी प्रकार के संदेहास्पद आवेदन पत्रों को संबंधित छात्र-छात्रा द्वारा दिनांक 10 फरवरी 2021 तक ही त्रुटि रहित अनिवार्य रूप से किया जा सकता है । अतः शिक्षण संस्थान स्तर पर दिनांक 10 फरवरी 2021 तक छात्र-छात्रा द्वारा सुधार किए गए संदेहास्पद डाटा को दिनांक 13 फरवरी 2021 तक डिजिटजी ऑनलाइन अग्रसारण किया जाना है । छात्रों द्वारा त्रुटि रहित किए गए आवेदन पत्रों को शिक्षण संस्थान को विलंब दिनांक 18 फरवरी 2021 तक संबंधित जनपदीय अधिकारी को साक्ष्य सहित उपलब्ध कराया जाना अनिवार्य है । उक्त तिथि के उपरांत समस्त शेष संदेहास्पद डाटा(त्रुटिपूर्ण आवेदन पत्र) ऑनलाइन सुधार के अभाव में स्वयं निरस्त माने जाएंगे ।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र