अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर जिला कारागार में महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम का किया गया आयोजन

 अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर जिला कारागार में महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम का किया गया आयोजन



न्यूज़ ऑफ फतेहपुर जिला संवाददाता


फतेहपुर में महिला बंदियों के सशक्तीकरण हेतु चलाये जा रहे 10 दिवसीय कार्यक्रम का किया गयाआयोजन इस अवसर पर कारागार की महिला कक्ष में महिला बंदियों के मध्य विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। जिलाधिकारी द्वारा कार्यक्रम में अपने सम्बोधन में महिला बंदियों को जागरूक करते हुये नारी सशक्तीकरण के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला तथा कारागार में महिलाओं द्वारा

समय का सदुपयोग करते हुये कौशल विकास एवं स्वउद्यमिता हेतु प्रेरित किया गया।

जिलाधिकारी के प्रयास से महिला बंदियों को आत्मनिर्भर बनने के उद्देश्य से 07 नग सिलाई मशीन भेंट की गयी। उनके द्वारा 30 दिवसीय सिलाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। यह प्रशिक्षण आर०सेटी (स्टेट बैंक के माध्यम दिलाया जायेगा। इस अवसर पर कारागार अधीक्षक द्वारा उत्तर प्रदेश सरकार, जिला प्रशासन एवं कारागार विभाग द्वारा बंदियों हेतु चलाये जा रहे शिक्षा सुधार, कौशल विकास एवं रचनात्मक कार्यों तथा पुर्नवास हेतु चलायी जा रही विभिन्न कार्यक्रमों पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर श्री बी0डी0 मिश्रा प्रबन्धक एल०डी०एम० द्वारा महिला बंदियों के सशक्तीकरण हेतु सहायता उपलब्ध कराने की योजना प्रस्तुत की गयी। अजय शुक्ला डूडा परियोजना अधिकारी, फतेहपुर द्वारा लघु बचत के माध्यम से महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने हेतु स्वयं सेवा समूह के गठन एवं संचालन पर प्रकाश डाला गया तथा सरकार द्वारा स्वयं सहायता समूहो को दी जाने वाली सहायता के विषय में बताया गया। कारागार में 10-10 महिला बंदियों के नया सवेरा तथा नयी किरण नाम के स्वयं सेवा समूहो का गठन किया गया है। उक्त दोनों समूहों के बैंक खाते बैंक आफ इण्डिया में खोले गये है तथा उनको पास बुक का वितरण जिलाधिकारी द्वारा किया गया। महिला दिवस के अवसर पर रंगोली प्रतियोगिता एवं रस्सा-कसी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। विजेताओं को प्रशस्ति पत्र देकर जिलाधिकारी द्वारा उत्साहवर्धन किया गया तथा जीवन में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के महत्व को रेखांकित किया।

कार्यक्रम के इस अवसर पर जेलर डॉ0 आलोक शुक्ला, उपजेलर  अरूण कुमार अंजनी कुमार, अतुल कुमार गुप्ता सेल्स आफिसर भारत पेट्रोलियम एवं शिक्षिका अर्चना सिंह उपस्थित रही।