कस्बा बकेवर में हुई दो मौतों से पसरा सन्नाटा

 कस्बा बकेवर में हुई दो मौतों से पसरा सन्नाटा



गिरिराज शुक्ला


बिंदकी फतेहपुर।बिंदकी तहसील के अंतर्गत बकेवर में दो युवकों की हुई मौत से सन्नाटा पसरा है, दोनों युवकों की मौत नशे बाजी के दौरान हुई मारपीट से बताया जाता है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती रात कस्बा बकेवर के पश्चिमी छोर में अशोक रैदास उम्र 45 पुत्र महाबीर की ईटों से कूच कर हत्या कर दी गई, जबकि दूसरे युवक की उसके घर में मौत हो गई। मृतक अशोक की पत्नी ने बताया कि उसके पड़ोस का ही छोटू ने लगभग 11:00 बजे सूचना दिया कि अशोक को किन्हीं लोगों ने ईटों से कुचल कर मारा है जिससे वह घायल अवस्था में पश्चिम छोर के खड़न्जे पर पड़ा हुआ है जिसकी सुचना 112 नंबर पर दी गई जो तत्काल मौके पर आई और घायल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिंदकी ले गई जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। सदर अस्पताल में भी डॉक्टरों ने नाजुक हालत देखते हुए उसे कानपुर के हैलट अस्पताल को रेफर कर दिया जहां इलाज के दौरान आज प्रातः उसकी मौत हो गई जिसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

जानकारी के अनुसार पुलिस ने प्रथम दृष्टया तीन चार युवकों को हिरासत में लिया है और एक अन्य युवक की तलाश कर रही है वहीं दूसरी घटना के तार भी इसी घटना से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं। बताया गया है कि लगभग आधा दर्जन नशेबाज ठेके से शराब पीने के बाद झगड़ा करते हुए बकेश्वर मंदिर के पीछे वाले रोड की तरफ आए थे और उसी विवाद के दौरान अशोक को ईटों से कुचल कर हत्या कर दिया। यह भी बताया गया है कि जिस दूसरे युवक की मौत हुई है वह भी घटना के पूर्व नशे बाजी के दौरान अपने चाचा के साथ मौजूद था। पुलिस दोनों मामलों की तफ्तीश कर रही है जबकि पुलिस सूत्रों का कहना है कि अशोक के अलावा जिस दूसरे युवक की मौत हुई है उसके घर वालों ने ही उसकी पिटाई की है अभी तक पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया है मृतक अशोक अपने पीछे पत्नी फूलमती व पुत्र दीपक 8 वर्ष पुत्री लक्ष्मी लगभग 12 वर्ष को निराश्रित छोड़ गया है।

Popular posts
बुंदेलखंड जन अधिकार पार्टी ने जिलाध्यक्ष हनुमान प्रसाद दास राजपूत को विधानसभा बांदा सदर से प्रत्याशी किया घोषित,
चित्र
उत्तर प्रदेश फ्री स्मार्ट फोन और टैबलेट योजना 2021: इंतजार खत्म, योगी सरकार इसी माह से करेगी वितरण
चित्र
सहारा इंडिया कार्यकर्ता पुलिस अधीक्षक से मिले, पैसा दिलाने की मांग
चित्र
जिंदा हूँ तो जी लेने दो, चलती राहों में भी पी लेने दो.....ड्यूटी में भी पी लेने दो।
चित्र
भाजपा महिला मोर्चा की तरफ से सदस्यता अभियान चलाकर की गई बैठक
चित्र