योगी सरकार ने मृतक आश्रितों के लिए तय किए नियम,सरकारी कर्मचारी के निधन पर परिवार में किसे होगा भुगतान

 योगी सरकार ने मृतक आश्रितों के लिए तय किए नियम,सरकारी कर्मचारी के निधन पर परिवार में किसे होगा भुगतान



न्यूज़।उत्‍तर प्रदेश शासन ने सरकारी सेवकों की मृत्यु होने की दशा में उनके द्वारा अर्जित अवकाश के लिए नकदीकरण के देय धनराशि के भुगतान के लिए आश्रित पात्रों की वरीयता का निर्धारण कर दिया है। यदि मृत सरकारी सेवक (पुरुष) था और उसकी एक से अधिक विधवाएं हैं तो विवाह की तिथि को आधार बनाते हुए सबसे बड़ी विधवा को देय धनराशि का नकद भुगतान किया जाएगा।अपर मुख्य सचिव वित्त एस. राधा चौहान ने इस आशय का शासनादेश जारी किया है।शासनादेश के मुताबिक यदि मृत सरकारी सेवक पुरुष था तो उसकी पत्नी को और यदि स्त्री थी तो उसके पति को दिया जाएगा।मृतक की पत्नियों को भुगतान किए जाने के संबंध में कई पत्नियां होने पर होने वाले विवाद को खत्म करने की व्यवस्था इस शासनादेश के माध्यम से की गई है। नकदीकरण का भुगतान सबसे बड़ी ब्याहता पत्नी को करने का आदेश दिया गया है। इसे भी परिभाषित करते हुए लिखा गया है कि सबसे बड़ी जीवित पत्नी से आशय मृतक की ब्याहता की विवाह की तिथि के अनुसार वरिष्ठता तय की जाएगी न कि उम्र से।

Popular posts
जिले में महिलाओं के हत्या युक्त अज्ञात शव मिलने का नहीं थम रहा सिलसिला 3 दिन पहले मिली थी हत्या युक्त महिला का शव अभी तक नहीं हुई कोई शिनाख्त
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
15 हजार से कमाई कम तो मिलेगा बीमा और आयुष्मान कार्ड का लाभ, करना होगा यह काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र