नंबर बढ़ाने के चक्कर में डीजे संचालक को जेल!

 नंबर बढ़ाने के चक्कर में डीजे संचालक को  जेल!


गिरोह के पास हजार रुपए का सामान , आरी ब्लेड  हथौड़ा बना पुलिस का सहारा !


अफसरों के शिथिल पर्यवेक्षण से   बढ रही थानों में मनमानी 



फतेहपुर , जनपद में अपराध नियंत्रण को लेकर सख्त एसपी राजेश सिंह के निर्देशन में अपराधियों के खिलाफ धरपकड़ अभियान के तहत जनपद के चर्चित थानों के थानेदार हातिम की नजर में नंबर बढ़ाने के लिए  तरह-तरह के नित नए हथकंडे अपना रहे हैं जिससे अपनी साख बनाए रखी जा सके। आरी ब्लेड व  हंथौडे अपराध व अपराधियों को रोकने का जरिया बन गये हैं।


कल्यानपुर पुलिस ने शनिवार को एक प्रेस नोट जारी करते हुए बताया कि शुक्रवार की बीती रात थाना क्षेत्र में रात बक्सर रोड, देसी शराब ठेका के समीप नहर के किनारे उगी झाड़ियों के पीछे बाफासला 3 किमी  पश्चिमोत्तर दिशा का जिक्र करते हुए बताया गया कि मारुति वैन में सवार चोरों की टोली के पास से बड़ी बरामदगी करते हुए 20 रूपये कीमत के दो ब्लेड और 2 सौ रुपए कीमत का हथौड़ा बरामद किया गया। इस कार्रवाई से चोरों की टोली में हड़कंप मच गया। मौके से बरामद मारुति वैन नंबर UP 78 FL6951 में सवार  पांचों आरोपियों (पंकज पटेल, मोहित पासवान, वीरेंद्र यादव, अभिषेक यादव और सुधीर निषाद ) को पकड़ा । मुकदमा अपराध संख्या 172/ 21 धारा 401 आईपीसी के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय भेजा गया।

डीजे संचालक की गिरफ्तारी से उठे सवाल

आरोपियों के परिजनों की मानें तो औंग थाना क्षेत्र के मोहित पासवान (18) की औंग स्टेशन रोड  में डीजे की दुकान है जिसके खिलाफ कोई भी शिकायत अब तक थानें नहीं है,  पुलिस अधीक्षक से मिलकर शिकायत करेंगे।

आरोपी का भाई औंग थाने का हिस्ट्रीशीटर है जिसके चलते  तत्कालीन कारखास रहे शक्स द्वारा बेवजह दबिश के नाम पर परिवार को  परेशान करने की शिकायत तत्कालीन पुलिस अधीक्षक रमेंश से  करना परिवार को महंगा पड रहा है।

पुलिस पर आरोप है कि महज नंबर बढानें के चक्कर में  बेगुनाह को जेल भेजा गया है। यदि पुलिस अधीक्षक द्वारा पूरे मामले की उच्चाधिकारियों से जांच कराई जाए तो पूरे राज से पर्दा उठ सकता है।

Popular posts
जिले में महिलाओं के हत्या युक्त अज्ञात शव मिलने का नहीं थम रहा सिलसिला 3 दिन पहले मिली थी हत्या युक्त महिला का शव अभी तक नहीं हुई कोई शिनाख्त
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
15 हजार से कमाई कम तो मिलेगा बीमा और आयुष्मान कार्ड का लाभ, करना होगा यह काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र