कोविड हॉस्पिटल में किया गया मॉक ड्रिल

 कोविड हॉस्पिटल में किया गया मॉक ड्रिल



6 मिनट के अंदर शुरू कर दिया गया उपचार


कोरोना का नकली अभ्यास देख लोग हुये अचंभित


बिंदकी फतेहपुर।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कोविड हॉस्पिटल में मॉक ड्रिल यानि नकली अभ्यास किया गया। एक महिला को करोना का मरीज बनाकर लाया गया एंबुलेंस से मरीज को लाते ही उसे तुरंत स्ट्रेचर में लिटा कर तुरंत पल्स ऑक्सीजन की मात्रा नापी गई और ऑक्सीजन सिलेंडर लगा कर तुरंत कोविड वार्ड ले जाया गया।

मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कोविड हॉस्पिटल मे मॉक ड्रिल का प्रदर्शन किया गया एक अधेड़ महिला को मरीज के रूप में एंबुलेंस द्वारा तेजी से लाया गया महिला के आने के पहले पूर्व सूचना होने के कारण पहले से ही चिकित्सक कर्मचारी स्टेशन लेकर और ऑक्सीजन सिलेंडर को स्टैंड में लगा कर पहले से तैयार लोग रहे जैसे ही मरीज आया तुरंत उसके पल्स नापी गई ऑक्सीजन लेवल नापा गया तथा ब्लड प्रेशर नापा गया और 6 मिनट के अंदर मरीज को हॉस्पिटल के कोविड वार्ड में ले जाया गया जहां पर एक बार फिर पल्स नापी गई जिस पर पल्स 98 ऑक्सीजन लेवल 82 तथा ब्लड प्रेशर 120 तथा 70 निकला इसके अलावा मरीज का तापमान भी ना पा गया इस मामले में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर इश्तियाक अहमद ने बताया कि यह मॉक ड्रिल था जिसे नकली अभ्यास भी कहते हैं ताकि आपातकालीन में यदि कोई कोरोना का मरीज आता है तो किस तरह उसको तुरंत उपचार शुरू किया जाएगा यह अभ्यास किया गया है इस मौके पर डॉ धर्मेंद्र सिंह के अलावा मनोज कुमार भूपेंद्र सहित तमाम लोग मौजूद रहे।