जिला अधिकारी अनुराग पटेल के आदेशों को पलीता लगाते ग्राम पंचायत पवई के प्रधान वा सचिव

 जिला अधिकारी अनुराग पटेल के आदेशों को पलीता लगाते ग्राम पंचायत पवई के प्रधान वा सचिव



संवाददाता बाँदा- ग्रामीणों द्वारा ग्राम पंचायत पवई में बनी गोशाला में मारे हुए गोवंश का वीडियो  मीडिया बंधुओ से प्राप्त होने पर तत्काल बी डी ओ विसंडा से उक्त गोशाला में मरे हुए गोवंश की सूचना देने के बाद उपरोक्त गोशाला में मीडिया बंधुओ के साथ पहुंच कर गोवंश की बत्तर  हालत देखने को मिली।

आज मारे हुए जानवरों को बी डी ओ साहब के आदेश पर गड्ढा खोदकर दबाया गया 

इस संबंध मे जब ग्रामीणों से बात की गई तो बताया गया की कड़ाके की ठंड वा भूख प्यास से जानवर आए दिन मर रहे हैं।

और मरे हुए गोवंश को गोशाला से थोड़ी दूर लेजाकर जानवरो से नुचवाने को फेक दिया जाता है।

इसी संबंध में जब प्रधान पति से मारे हुए जानवरों को खुले में फेक दिए जाने की बात की गई तो बहुत ही गैर जिम्मेदाराना जवाब दिया गया ।

प्रधान पति द्वारा बताया गया कि हमेशा ऐसा ही होता था तो ऐसी लिए फेक दिया जाता है।

गो शाला में 175 गो वंश में आधे से ज्यादा की तेगिग ना होने पर बताया गया की डॉक्टर साहब ने कहा उनके द्वारा दो लोग भेजे भी गए महज खाना पूर्ति कर जानवर मार रहे हैं इस कारण टेगिग नही हो सकती है।

इन सभी बातों से साफ जाहिर है कि जिला अधिकारी बांदा के आदेशों की सरे आम धज्जियां ग्राम प्रधान वा सचिव उड़ा रहे हैं।