भारत में तेज होगी इलेक्ट्रिक गाड़ियों की रफ्तार, भारत में अडानी ग्रुप करेगा 1500 EV चार्जिंग स्टेशन का विस्तार

 भारत में तेज होगी इलेक्ट्रिक गाड़ियों की रफ्तार, भारत में अडानी ग्रुप करेगा 1500 EV चार्जिंग स्टेशन का विस्तार



न्यूज़।अडानी ग्रुप ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर में कदम रखा है। कंपनी ने अपना पहला इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन स्थापित कर दिया है। अडानी ग्रुप ने इस ईवी चार्जिंग स्टेशन को गुजरात के अहमदाबाद में लगाया है। उम्मीद है कि अब भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर में तेजी से विस्तार होगा।

बढ़ते पेट्रोल-डीजल की कीमतों और बढ़ते प्रदूषण के कारण भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की डिमांड काफी तेजी से बढ़ रही है। इलेक्ट्रिक स्कूटर्स और कार की डिमांड भारतीय बाजार में काफी ज्यादा है, लेकिन चार्जिंग के लिए बड़ा इन्फ्रास्ट्रक्चर नहीं है। हालांकि, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर विस्तार के लिए कई कंपनियां तेजी से काम कर रही हैं। अब अडानी ग्रुप ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर में कदम रखा है। उम्मीद है कि अब पूरे भारत में तेजी से इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर में विस्तार होगा।

अहमदाबाद में लगा पहला ईवी चार्जिंग स्टेशन

अडानी समूह और फ्रांस की ऊर्जा कंपनी TotalEnergies SE के संयुक्त उद्यम अडानी टोटल गैस लिमिटेड ने अहमदाबाद में अपना पहला EV चार्जिंग स्टेशन लॉन्च करके इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र में कदम रखा है। कंपनी ने बताया कि चार्जिंग स्टेशन अहमदाबाद के मणिनगर में एटीजीएल के सीएनजी स्टेशन पर स्थित है।

इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशन ईवी मालिकों के लिए सर्वश्रेष्ठ-इन-क्लास फास्ट चार्जिंग तकनीक और सुविधाजनक उपयोग डिजिटल प्लेटफॉर्म के साथ त्वरित बदलाव का समय सक्षम करेगा। एटीजीएल भारत का सबसे बड़ा निजी सीएनजी और पाइप्ड कुकिंग गैस वितरक है।

अडानी टोटल गैस (एटीजीएल) के सीईओ सुरेश पी मंगलानी ने कहा कि अहमदाबाद में पहला चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के साथ ईवी व्यवसाय की शुरुआत अडानी टोटल गैस के लिए भारत में बड़े उपभोक्ता आधार को नए हरित ईंधन का विकल्प प्रदान करने के लिए एक मील का पत्थर है, जबकि समय पर एक उभरते हुए व्यावसायिक अवसर को पेश करने के लिए हमारे दृष्टिकोण से जुड़ा हुआ है।

1,500 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने का प्लान

उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि भारत के सभी प्रमुख शहरों और कस्बों में स्थायी ईंधन समाधान उपलब्ध हो।कंपनी का लक्ष्य देश भर में 1,500 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करके अपने नेटवर्क का विस्तार करना है। देश में ईवी पारिस्थितिकी तंत्र की मांग निर्माण और गति निर्माण के आधार पर 1,500 ईवीसीएस से आगे बढ़ने के लिए एक विस्तार योजना तैयार है। कंपनी ने कहा कि वह इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में उद्यम करने और तेजी से बढ़ते ईवी बाजार के एक महत्वपूर्ण हिस्से पर कब्जा करने के लिए रणनीतिक रूप से फिट है।