22 साल पुरानी ट्यूमर की गांठ से फरीद को मिली राहत

 22 साल पुरानी ट्यूमर की गांठ से फरीद को मिली राहत



असंभव को संभव कर दिया डॉक्टर ईशान दीक्षित ने 


बांदा संवाददाता।22 सालों से परेशान फरीद ग्राम कुरही ट्यूमर की गांठ से था परेशान 

जनपद बांदा के जिला चिकित्सालय में ईएनटी विशेषज्ञ डॉक्टर  ईशान दीक्षित ने पीड़ित के 22 साल पुरानी ट्यूमर की गांठ ऑपरेशन कर पीड़ित को राहत की सांस दिलाई

डॉक्टर ईशान दीक्षित ने बताया कि करीबन 2 घंटे की कड़ी मेहनत के बाद ऑपरेशन कर फरीद की ट्यूमर के ढाई सौ ग्राम की गांठ को उसके शरीर से अलग कर दिया मरीज को डॉक्टर फिलहाल अपनी निगरानी में रखे हुए है

 परिजनों ने बताया कि 22 साल से हमने बहुत सा इलाज कराया पहले कई दिनों तक अंग्रेजी इलाज चला फिर लोगों ने बताया कि देशी इलाज कराओ ठीक हो जाएगा तो हमने देशी इलाज भी कराया पर पीड़ित को कोई आराम नहीं मिला इस चक्कर में हमारे काफी पैसे भी खर्च हो गए फिर हमें एक लोगों ने बताया कि बांदा में जिला चिकित्सालय में ईएनटी विशेषज्ञ ईशान दीक्षित को दिखा तो फिर हम डॉक्टर साहब को दिखाया तो डॉक्टर साहब ने  ऑपरेशन की सलाह दी फिर मरीज कोठी में भेज दिया फिर ओपीडी में करीब 2 घंटे ऑपरेशन के बाद पीड़ित के ढाई सौ ग्राम ट्यूमर की गांठ को बाहर निकाला और डॉक्टर अपनी निगरानी में अभी रखे हुए हैं परिवार वालों ने डॉक्टर आभार जताया डॉक्टर इंसान ने बताया कि वह पूरी सेवा भाव के साथ मरीजों की सेवा करते हैं उनकी कोशिश की यही यही रहती है कि मरीज पूरी तरह से सही सलामत अपने घर पहुंचे।