यूक्रेन संकट के चलते तेल की कीमतों में बढोतरी को रोकने के लिए उचित कदम उठाएगी सरकार, संसद में दिया भरोसा

 यूक्रेन संकट के चलते तेल की कीमतों में बढोतरी को रोकने के लिए उचित कदम उठाएगी सरकार, संसद में दिया भरोसा



न्यूज़।यूक्रेन संकट के चलते तेल की कीमतें बढ़ने की आशंकाएं गहरा गई हैं। इस मसले पर एक सवाल के जवाब में सरकार ने संसद में भरोसा दिया कि तेल की कीमतें बढ़ने से रोकने के लिए वह उचित कदम उठाएगी।

यूक्रेन पर रूसी हमले के बाद दुनिया के कई मुल्‍कों में तेल की कीमतों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। भारत में भी इसकी आशंका बनी हुई है। इस मसले पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने सोमवार को संसद में भरोसा दिया है कि यूक्रेन संकट के चलते तेल की कीमतों में बढोतरी को रोकने के लिए सरकार उचित कदम उठाएगी। यह बयान दर्शाता है कि यदि जरूरत पड़ी तो सरकार राष्ट्रीय स्‍टाक से तेल जारी कर सकती है। मालूम हो कि भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा तेल उपभोक्ता और आयातक देश है जो अपनी जरूरतों का लगभग 85 फीसद आयल आयात करता है। रामेश्वर तेली ने एक लिखित जवाब में कहा कि भारत सरकार बाजार की अस्थिरता को कम करने और कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी को रोकने के लिए सभी उचित कदम उठाने के लिए तैयार है। पिछले महीने सरकार ने कहा था कि वह अतिरिक्त कच्चे तेल को जारी करने के लिए तैयार है।

यानी संकेत साफ हैं कि सरकार तेल की बढ़ती कीमतों को थामने के लिए अपने राष्ट्रीय स्‍टाक से तेल जारी कर सकती है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार वैश्विक ऊर्जा बाजारों के साथ संभावित ऊर्जा आपूर्ति व्यवधानों की बारीकी से निगरानी कर रही है। भले ही भारत रूस से कम मात्रा में तेल आयात करता है लेकिन पश्चिमी देशों की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों के कारण वैश्विक तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
विकास को 7 बार किस सांप ने काटा? सामने आई सच्चाई, अफसरों ने सुलझाई सच और झूठ की पहेली
चित्र
सर्प ने सात बार काटा सपने में सांप बोला नौंवी बार साथ ले जाएंगे कोई तंत्र मंत्र नही बचा पायेगा
चित्र
छात्र शौर्य द्विवेदी ने कबाड़ी से बनाई इलेक्ट्रिक बाइक
चित्र
विप्लवी ने असिस्टेंट कमिश्नर बन कर जनपद का नाम किया रोशन
चित्र
असोथर के 45 शिक्षकों ने संकुल पद से दिया इस्तीफा, धरना प्रदर्शन करके सरकार विरोधी लगाए नारे
चित्र