खागा पुलिस की निष्क्रियता से नहीं मिल रहा महिला को न्याय

 खागा पुलिस की निष्क्रियता से नहीं मिल रहा महिला को न्याय



4 दिनों से खागा कोतवाली के चक्कर काट कर हार चुकी महिला पहुंची पुलिस अधीक्षक की चौखट


10 वर्ष पूर्व पहले भी कर चुके हैं महिला के पुत्र पर जानलेवा हमला


खागा(फतेहपुर)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लाख प्रयासों के बावजूद जनपद फतेहपुर की पुलिस अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही है। 2 मार्च 2022 को खागा कोतवाली अंतर्गत चक बबुल्लापुर मोहकम में 60 वर्षीय वृद्ध विधवा महिला को गांव के ही कुछ अराजक तत्वों ने रास्ते से निकलने की लिए मना किया किंतु जब महिला उस रास्ते से निकली तो उन लोगों ने महिला की बुरी तरह से पिटाई कर दी और उसके कपड़े फाड़ दिए महिला को भद्दी भद्दी गालियां देने लगे। जब उसके पुत्र बऊवा ने इसका विरोध किया तो उसे भी मारा पीटा गया। गांव के ही रहने वाले संतलाल पुत्र जंगलिया, बाबू पुत्र जंगलिया रामबरन पुत्र बाबू द्वारा अभद्रता व मारपीट की गई। आपको बताते चलें कि तकरीबन 10 वर्ष पूर्व भी  आरोपियों ने रानी देवी पत्नी स्वर्गीय कैलाश उसके पुत्र तथा देवर छोटेलाल को बुरी तरह से मारा पीटा तथा मरणासन्न अवस्था में छोड़ कर चले गए थे। जब पीड़ित ने खागा कोतवाली में एफ आई आर दर्ज करवाई तो पुलिस की निष्क्रियता सामने आई और उन्होंने एफ आई आर दर्ज नहीं किया। पास के ही एक सपा नेता कि शिफारस पर पीड़ितों पर ही मुकदमा कायम कर दिया जो आज भी कोर्ट में विचाराधीन है आज 10 वर्षों बाद महिला के साथ फिर से पुनरावृति हुई किंतु खागा पुलिस के कानों में जूं तक नहीं रेंगी महिला के तीन बार कोतवाली में लिखित प्रार्थना पत्र देने के बावजूद उसे यह कहकर वापस लौटा दिया गया कि साहब अभी नहीं है अंततः मजबूर होकर जब गांव के गुंडा व दबंग प्रकृति  के लोगों ने महिला को जान से मारने की धमकी दी तो महिला ने आज पुलिस अधीक्षक के द्वार न्याय की गुहार लगाई है।क्या हमारी कानून व्यवस्था इतनी लचर हो गई है कि किसी वृद्ध विधवा महिला को इंसाफ तक नहीं दिला सकती।क्या पुलिस प्रशासन की आड़ में गुंडे व अपराधी प्रवृत्ति के लोग ऐसे ही गरीबों को सताते रहेंगे।

क्या कानून की कोई जिम्मेदारी नहीं बनती है।आखिर कब तक गरीबों को ऐसे लोगों की मार व कटु शब्दों को सुनना पड़ेगा।

 क्या खागा पुलिस इतनी लाचार हो गई है कि किसी बेसहारा को इंसाफ तक नहीं दे सकती।

 सवाल बहुत हैं किंतु जवाब तो फतेहपुर खागा की पुलिस को ही देना पड़ेगा।

Popular posts
चेहरे पर मुहासे के दाग होने की वजह से 8 जगहों से टूटा रिश्ता हीनभावना से ग्रसित,युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
चित्र
लगभग 5 करोड़ रुपए की अष्टधातु की मूर्ति के साथ एक आरोपी गिरफ्तार
चित्र
एंटी करप्शन टीम ने रिश्वत लेते बाबू को रंगेहाथ पकड़ा, एरियर निकालने के लिए मांगे थे 14 हज़ार रुपये
चित्र
उत्तर प्रदेश में मुफ्त राशन वितरण व्यवस्था में बदलाव, अब राशनकार्ड धारकों को चावल ज्यादा और गेहूं कम मिलेगा
चित्र
अतिक्रमणकारियों पर होगी सख्त कार्रवाई--- एसडीएम बिंदकी
चित्र