अज्ञात वाहन की टक्कर से वृद्ध की मौत

अज्ञात वाहन की टक्कर से वृद्ध की मौत



 फतेहपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के खंभापुर पीएसी रोड पर शनिवार की देर शाम पैदल जा रहे 75 वर्षीय वृद्ध को पीछे से आ रहे अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दिया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार शहर क्षेत्र के श्यामपुर खंभापुर निवासी स्व. दुर्गा सिंह का पुत्र प्रताप सिंह शनिवार की देर शाम लगभग सात बजे पैदल टहल रहे थे। जैसे ही वह पीएसी रोड पर पहुंचे उसी समय पीछे से आ रहे अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दिया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। तत्काल उन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां इमरजेंसी के चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर घटनास्थल पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। 


घायल वृद्ध की उपचार दौरान मौत 


फतेहपुर। थरियांव थाना क्षेत्र के ग्राम बिलंदा में दो दिन पूर्व अचानक गिर जाने से 60 वर्षीय वृद्ध घायल हो गया था। जिसे उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया जहां से उसे कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया। हालत ठीक न होने पर चिकित्सकों ने लखनऊ पीजीआई रेफर कर दिया। जिसकी लखनऊ ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई। जानकारी के अनुसार बिलंदा गांव निवासी स्व. छेद्दू का पुत्र मेवालाल दो दिन पूर्व अचानक घर में ही गिरकर घायल हो गया था। परिजनों ने उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां हालत ठीक न होने पर कानपुर के लिए रेफर कर दिया। जिस पर परिजन उसे कानपुर हैलट में भर्ती कराया। चैबीस घंटा इलाज के बाद जब हालत ठीक न हुई तो चिकित्सकों ने लखनऊ पीजीआई रेफर कर दिया। घर वाले उसे लेकर लखनऊ जा रहे थे तभी रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया। 


सड़क हादसे में वृद्ध की मौत 


फतेहपुर। थरियांव थाना क्षेत्र के ग्राम बहरामपुर में सड़क हादसे में 60 वर्षीय वृद्ध घायल हो गया। जिसे उपचार के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया गया। जानकारी के अनुसार बहरामपुर गांव निवासी स्व. दाताराम का पुत्र रामगोपाल शनिवार की शाम घर से किसी काम से जा रहा था। जैसे ही वह कुछ दूर पहुंचा तभी अज्ञात वाहन की चपेट में आ जाने से घायल हो गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची सरकारी एंबुलेंस ने घायल को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय पहुंचाया। जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया।


 अनियंत्रित बाइक गिरने से साले-बहनोई घायल 


फतेहपुर। हुसैनगंज थाना क्षेत्र के ग्राम बेला मोड़ के समीप रविवार की दोपहर बाइक सवार को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होकर बाइक गिर जाने से साले-बहनोई बुरी तरह घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां साले की हालत गंभीर देखते हुए कानपुर के लिए रेफर कर दिया। जानकारी के अनुसार सुल्तानपुर घोष थाना क्षेत्र के अल्लीपुर बहेरा गांव निवासी राजाराम का 30 वर्षीय पुत्र दिनेश अपने बहनोई जितेंद्र पुत्र जयपाल 25 वर्ष निवासी फरीदपुर बिंदकी के साथ मोटरसाइकिल से हुसैनगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत निमंत्रण में आ रहा था। बाइक जैसे ही थाने के बेला मोड़ के पास पहुंची तभी सामने से आए बाइक सवार को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होकर बाइक गिर जाने से साले-बहनोई बुरी तरह घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची सरकारी एंबुलेंस ने घायलों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक ने दिनेश की हालत गंभीर देखते हुए कानपुर मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया।


आग से महिला झुलसी 


फतेहपुर। मलवां थाना क्षेत्र के ग्राम उमरगहना में रविवार की दोपहर होला भूनते समय आग की चपेट में आ जाने से 36 वर्षीय महिला झुलस गई। जिसे उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार उमरगहना गांव निवासी पुत्तन की पत्नी प्रेम प्यारी रविवार की दोपहर घर के बाहर होला भून रही थी। तभी अचानक उसके कपड़ों में आग लग गई। जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। परिजनों ने उसे तत्काल सरकारी एंबुलेंस से उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया।


महिला ने खाया जहरीला पदार्थ 


फतेहपुर। गाजीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रामपुर में रविवार की सुबह पति से लड़ने के बाद 24 वर्षीय महिला ने जहरीला पदार्थ खा लिया। जिसे उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सक ने उसकी हालत नाजुक देखते हुए कानपुर के लिए रेफर कर दिया। जानकारी के अनुसार थाने के रामपुर गांव निवासी भूपेंद्र सिंह की पत्नी रश्मि देवी से आज सुबह किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। जिस पर पति ने उसे थप्पड़ मार दिया। जिससे क्षुब्ध होकर युवती ने जहर खा लिया। कुछ समय बाद जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो परिजनों ने उसे तत्काल सरकारी एंबुलेंस द्वारा उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया। जहां इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक ने उसकी हालत नाजुक देखते हुए कानपुर मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया।