बिजली की चपेट में आ जाने से एक बंदर की हुई मौत लोगों ने वैदिक परंपरा के अनुसार किया अंतिम संस्कार

 बिजली की चपेट में आ जाने से एक बंदर की हुई मौत लोगों ने वैदिक परंपरा के अनुसार किया अंतिम संस्कार



बांदा - श्रीकान्त श्रीवास्तव 



बांदा -  विजली की चपेट में आ जाने से एक बंदर की मौत हो गई. लोगों ने गाजे-बाजे के साथ बंदर की शवयात्रा निकाली. वैदिक परम्परा के अनुसार उसका अंतिम संस्कार किया. पूरा मामला जनपद बांदा थाना मरका अंतर्गत ग्राम सभा समगरा का है

आपको बतादे की 11000 हॉर्स पावर  बिजली  तार की चपेट में आकर बंदर की हुई दर्दनाक मौत है। बंदर को हनुमानजी का प्रतिरूप मानकर पशु-पक्षी प्रेमी अविनाश मिस्र, अखिलेश तिवारी, अमन तिवारी, और स्थानीय लोगों ने बंदर का अंतिम संस्कार वैदिक परम्पराओं के अनुसार करने का निर्णय लिया. बंदर के शव को नहलाकर नए वस्त्र पहनाए गए. इसके बाद उसके शव को अर्थी में रखकर चार चार लोगो ने कन्धा दिया। गाजे-बाजे के साथ शवयात्रा निकाली गई.  विधि विधान से शव अंतिम संस्कार किया गया.

जनपद बांदा थाना मरका अंतर्गत ग्राम सभा समगरा का है