बलिया जिला में पत्रकार के साथ हुई अभद्रता को लेकर जनपद के पत्रकारों ने ज्ञापन सौंपा

 बलिया जिला में पत्रकार के साथ हुई अभद्रता को लेकर जनपद के पत्रकारों ने ज्ञापन सौंपा



रिपोर्ट - श्रीकान्त श्रीवास्तव 


बांदा -  खबर छापने को लेकर बलिया जिला  में पत्रकार के साथ हुए पुलिस बर्बरता कि गई है जिसके विरोध मे बांदा जनपद के पत्रकारों के द्वारा मांग की गई की दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कि जाए जिले के समस्त पत्रकारों ने एकत्रित होकर जिलाधिकारी बांदा के माध्यम से  महामहिम राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिया 

आपको बता दें पूरा मामला कलेक्टर परिसर का है जहां पर मीडिया देश का चौथा स्तंभ है भारत में मीडिया ने हमेशा लोकतांत्रिक परंपराओं और रक्षा जनतंत्र की रक्षा के लिए हमेशा महत्वपूर्ण योगदान दिया किंतु गत वर्ष में पत्रकारों के साथ हुई दमनकारी घटनाओं फर्जी मुकदमे पानी व जेल भेजने आक्रमण जैसी घटनाओं में मीडिया की आजादी को खतरे में डाल दिया आपको बता दें ताजा उदाहरण बलिया जिले के पत्रकारों द्वारा बोर्ड परीक्षा के पेपर लीक किए जाने की खबर को  छापने के मामले में बलिया जिला प्रशासन द्वारा विद्यालय निरीक्षक व पुलिस द्वारा अमर उजाला के पत्रकार के कार्यालय में घुसकर तोड़फोड़ की गई साथ ही गलत तरीके से थाने में बैठा कर अपमानित किया गया जो कि एक स्वस्थ लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास किया जा रहा है ऐसे कई मामले संज्ञान में आए हैं  पुलिस प्रशासन द्वारा अपनी कमजोरियों को छुपाने हेतु मीडिया को गलत तरीके से जेल भेजने का कार्य किया गया जिसके बिरोध मे पत्रकारों ने महामहिम राष्ट्रपति महोदय को सम्बोधित ज्ञापन सौपा