धूप में मरणासन्न पड़ी महिला को सदर अस्पताल पहुंचा,चिकित्सक ने किया मृत घोषित

 धूप में मरणासन्न पड़ी महिला को सदर अस्पताल पहुंचा,चिकित्सक ने किया मृत घोषित 



फतेहपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के ज्वालागंज बस स्टाप पेट्रोल पम्प के समीप गुरूवार को धूम में अपने तीन बच्चों के साथ बैठी तड़प रही महिला को हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय सचिव व जिला सचिव अपने समर्थकों के साथ महिला को उपचार के लिये जिला चिकित्सालय लाये जहॉ चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया वही महिला के शव को जिला चिकित्सालय के मर्च्युरी हाउस में रखवा दिया गया है। बताते है कि पति ने पत्नी और बच्चों को छोड़कर कही और चला गया है। महिला करीब 45 साल की थी उसके तीन बच्चों में दो बेटे और एक बेटी हैं। महिला को बुधवार से शहर में देखा गया, वह बच्चों को लेकर रेलवे स्टेशन के पास शादीपुर चौराहे पर बैठी थी, उसके बाद गुरुवार दोपहर बसअड्डे के पास पेट्रोल पंप के बाहर कड़ी धूप में बैठकर लू के थपेड़े झेल रही थी। वह अचानक बेहोश हो गई। बाबा साहेब की आंबेडकर का चौराहे से समाजसेवी जुलूस लेकर जा रहे थे। इस दौरान हिंदू महासभा के राष्ट्रीय सचिव सोनू तिवारी और जिला सचिव शिवानी तिवारी ने महिला को बेसुध देखकर जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। बाबा साहेब के जुलूस को लेकर यातायात भी बाधित रहा। सोनू तिवारी ने बताया कि जाम में भी फंसे, इस वजह से भी देर हुई। उन्होंने कुछ मीडिया कर्मियों को बुधवार को सूचना दी थी। जिसकी सोशल मीडिया और ट्विटर पर खबर भी प्रसारित हुई। उसके बाद कोई सुध नहीं ले सका। बच्चों को ले जाने के लिए चाइल्ड लाइन हेल्पलाइन सेंटर को सूचना दी गई है। महिला के करीब सात साल का बेटा बमुश्किल बता सका कि उन लोगों को कई दिन पहले पिता छोड़ गए थे। महिला से बातचीत करने वालों का कहना रहा कि वह बिहार की रहने वाली थी।

टिप्पणियाँ
Popular posts
विकास को 7 बार किस सांप ने काटा? सामने आई सच्चाई, अफसरों ने सुलझाई सच और झूठ की पहेली
चित्र
असोथर के 45 शिक्षकों ने संकुल पद से दिया इस्तीफा, धरना प्रदर्शन करके सरकार विरोधी लगाए नारे
चित्र
सरकारी जमीन पर मस्जिद निर्माण से तनाव, हिंदू संगठनों ने की महापंचायत
चित्र
असोथर बैंक के स्थापना दिवस पर संगोष्ठी एवं ग्राहक अभिनंदन के साथ किया गया वृक्षारोपण
चित्र
विप्लवी ने असिस्टेंट कमिश्नर बन कर जनपद का नाम किया रोशन
चित्र