विश्व मातृ दिवस पर ज्योति बाबा का आवाहन

 विश्व मातृ दिवस पर ज्योति बाबा का आवाहन

 


दिल से करो मां का सम्मान करो हर पल नशे का अपमान..ज्योति बाबा 


धरती के फरिश्ते मां का नशे का सेवनकर्ता हर पल अपमान..ज्योति बाबा 


भगवान भी करते मां का सम्मान तू नशा सेवन कर क्यों कर अपमान..ज्योति बाबा 


जिसके सिर पर मां का साया फिर कोई कष्ट नहीं आया.. ज्योति बाबा 


नशा मुक्त समाज निर्माण में मां की महती भूमिका...ज्योति बाबा 


कानपुर l मां ही है जो मनुष्य को मनुष्यता सिखाती है वह बच्चे का संरक्षण पोषण करती हुई उसे श्रेष्ठ नशा मुक्त नागरिक बनाती है श्रेष्ठ नागरिकों से अच्छे समाज और सशक्त राष्ट्र का निर्माण होता है इसीलिए नशा कुरीति मुक्त समाज निर्माण में मां की महती भूमिका होती है उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल का के तहत कोरोना पालन के अंतर्गत विश्व मातृ दिवस पर आयोजित वेबीनार शीर्षक नशा का सेवन है मां का अपमान पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख व नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल का के नेशनल ब्रांड एंबेसडर योग गुरु ज्योति बाबा ने कही,ज्योति बाबा ने आगे कहा कि जब भी हम किसी मुसीबत में होते हैं तो मां हमारे मुंह से पहला शब्द निकलता है वह मां ही होती है इस एक शब्द में संसार की सारी शक्तियां समाई हुई है यह शब्द जिंदगी की सबसे बड़ी प्रार्थना है ज्योति बाबा ने बताया कि जंगल में रहने वाले सभी पशु पक्षियों की मां उन्हें जंगल में रहने योग्य बनाती है उन्हें शिकार करना सिखाती है वह बच्चे को तब तक अकेला नहीं छोड़ती जब तक वह आश्वस्त ना हो जाए कि वे अपने सारे काम खुद करने में समर्थ हैं मलिहाबाद की विधायिका जयदेवी किशोर ने कहा कि एक मां के लिए वह बच्चों की ओर से दी जाने वाली सबसे कठोरतम यातना होती है जब शाम को बच्चों के लिए सुंदर पकवान बनाकर उनका इंतजार करती है लेकिन वह अपशब्दों का प्रयोग करते लड़खड़ाते कदमों से घर में प्रवेश करता है इसीलिए आज सभी बच्चे अपनी मां को खुशी की सबसे बड़ी दौलत तोहफा देना चाहते हैं तो जीवन भर नशा मुक्त रहने का संकल्प ले कर दें l मानवाधिकारवादी गीता पाल व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष योग ज्योति अंजू सिंह ने कहा कि हमारे वेद पुराणों में मां को शक्ति का स्रोत माना गया है कोई भी मादा जब तक मां नहीं बनती कमजोर हो सकती है पर मां बनते ही असीम शक्ति रूपिणी बन जाती है प्रबंधक एसोसिएशन महामंत्री राजेंद्र लहरी व प्रदेश कोऑर्डिनेटर भोला जैन ने कहा कि संसार का हर वह प्राणी खुश किस्मत है जिसके सिर पर मां का साया है मां भगवान की सर्वश्रेष्ठ रचना है हमारे लिए मां के जितना त्याग इस संसार में कोई नहीं कर सकता है अंत में मातृ दिवस पर ज्योति बाबा ने मां को हर पल सुख व आनंद देने के लिए नशे को जीवन से दूर रखने का संकल्प कराया l