शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन का अद्भभुत अकल्पनीय सराहनीय स्वागत फतेहपुर।ऋषी गालव की नगरी मध्य प्रदेश ग्वालियर भूमी पर जैसे ही विश्वकल्याण महाअभियान पदयात्री शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन महाशक्ती ध्वजा लेकर दोपहर 12:00 बजे की तपती धूप में ग्वालियर मुरैना एन. एच.92 रोड़ पर पैदल चलते देख लोगो ने 1 कि.मी. तक ठण्डे पानी सड़क पर डाल विश्वकल्याण की भावना कर शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन का किया स्वागत और दिया भोजन विश्राम प्रात:फूल मालाओं से सम्मानित कर लोगों ने जयकारों के साथ विदाई दी। स्वागत कर्ता श्याम सुन्दर रावत,दऊवा परिहार, तिलक सिंह घुरैया,विनोद सिंह घुरैया,राजेन्द्र रावत,रामबरन शर्मा, दीपक रावत ,संजय शर्मा अनेक लोगों की मौजूद रहें पदयात्री ने बताया वह उत्तर प्रदेश के जनपद-फतेहपुर ,तहसील- बिन्दकी ,ब्लाक-देवमई,के खरौली ग्राम के निवासी है 25 मार्च 2022 से लगातार नंगे पैर पैदल पदयात्रा में चल रहे है वह माँ चन्द्रिका बक्सर उन्नाव, फतेहपुर ताँम्बेश्वर महादेव, खागा मझिलगाँव लंकापती रावण द्वारा स्थापित कुण्डेश्वर महादेव, सिराथू कड़े धाम शीतला, प्रयागराज आलोप शांकरी, सगम त्रिवेणी स्नान, बडे लेटे हनुमान ,माँ विन्ध्यवासिनी मिर्जापुर,देव तालाब, सतना माँ शारदा मैहर, चित्रकूट, महोबा,निवाड़ी रामराजा सरकार ओरछा,दतिया माँ पिताम्बरा ,रतनगढ वाली माता ,बेहट संगीत सम्राट तानसेन तपोभूमि झिलमिल महादेव की पूजा दर्शन करके आ रहे है अभी तक शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन 2000 हजार कि.मी.पदयात्रा कर चुके है आगे मथुरा होते जम्मू माँ वैष्णो किश्तवाड़ जिले की माँ चण्डी मचेल दर्शन को जायेगे और पुनः पैदल ही अपने जन्मभूमि वापस फतेहपुर आयेगे माँ भगवती भगवान भक्त की सभी लोग सराहना करते हुए पदयात्रा की शुभकामनाएं दी।

 शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन का अद्भभुत अकल्पनीय सराहनीय स्वागत



फतेहपुर।ऋषी गालव की नगरी मध्य प्रदेश ग्वालियर भूमी पर जैसे ही विश्वकल्याण महाअभियान पदयात्री शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन महाशक्ती ध्वजा लेकर दोपहर 12:00 बजे की तपती धूप में ग्वालियर मुरैना एन. एच.92 रोड़ पर पैदल चलते देख लोगो ने 1 कि.मी. तक ठण्डे पानी सड़क पर डाल विश्वकल्याण की भावना कर शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन का किया स्वागत और दिया भोजन विश्राम प्रात:फूल मालाओं से सम्मानित कर लोगों ने जयकारों के साथ विदाई दी।

स्वागत कर्ता श्याम सुन्दर रावत,दऊवा परिहार,

तिलक सिंह घुरैया,विनोद सिंह घुरैया,राजेन्द्र रावत,रामबरन शर्मा, दीपक रावत ,संजय शर्मा

अनेक लोगों की मौजूद रहें

पदयात्री ने बताया वह उत्तर प्रदेश के जनपद-फतेहपुर ,तहसील- बिन्दकी ,ब्लाक-देवमई,के खरौली ग्राम के निवासी है 25 मार्च 2022 से लगातार नंगे पैर पैदल पदयात्रा में चल रहे है वह माँ चन्द्रिका बक्सर उन्नाव, फतेहपुर ताँम्बेश्वर महादेव, खागा मझिलगाँव लंकापती रावण द्वारा स्थापित कुण्डेश्वर महादेव, सिराथू कड़े धाम शीतला, प्रयागराज आलोप शांकरी, सगम त्रिवेणी स्नान, बडे लेटे हनुमान ,माँ विन्ध्यवासिनी मिर्जापुर,देव तालाब, सतना माँ शारदा मैहर, चित्रकूट, महोबा,निवाड़ी रामराजा सरकार ओरछा,दतिया माँ पिताम्बरा ,रतनगढ वाली माता ,बेहट संगीत सम्राट तानसेन तपोभूमि झिलमिल महादेव की पूजा दर्शन करके आ रहे है अभी तक शिवसेवक महात्मा वैष्णोदास शिवकरन 2000 हजार कि.मी.पदयात्रा कर चुके है आगे मथुरा होते जम्मू माँ वैष्णो किश्तवाड़ जिले की माँ चण्डी मचेल दर्शन को जायेगे और पुनः पैदल ही अपने  जन्मभूमि  वापस फतेहपुर आयेगे माँ भगवती भगवान भक्त की सभी लोग सराहना करते हुए पदयात्रा की शुभकामनाएं दी।

Popular posts
सदर कोतवाली के अंतर्गत राधा नगर चौकी क्षेत्र में "सीमा क्लीनिक" नाम का अदौली रोड में डॉक्टर ने गर्भपात करने की खोल रखी है मौत की दुकान
चित्र
पत्रकार की बाइक का बदौसा थानाध्यक्ष ने किया चालान पत्रकार ने पुलिस अधीक्षक को दिया लिखित शिकायत पत्र
चित्र
नगर पालिका बांदा की घोर लापरवाही आई सामने,
चित्र
लेखपाल की लापरवाही के चलते दबंग पूर्व ग्राम प्रधान ने अपने कार्यकाल में तालाब पर अवैध रूप से कब्जा कर बनवाया अपना मकान,प्रशासन दबंग प्रधान के सामने है मौन
चित्र
डायल 112 पीआरबी कर्मियों के द्वारा जंगल में हाथ पैर बांध कर फेंके गए युवक को बंधन से कराया मुक्त
चित्र