आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत डाॅ0 भीमराव आम्बेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कोविड के बढ़ते हुये मामलों को देखते हुए कोविड प्रिकाॅशन डोज का कैम्प आयोजित किया गया

 आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत डाॅ0 भीमराव आम्बेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कोविड के बढ़ते हुये मामलों को देखते हुए कोविड प्रिकाॅशन डोज का कैम्प आयोजित किया गया



फतेहपुर।महाविद्यालय में लगाया गया कोविड प्रिकाॅषन डोज कैम्प आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत डाॅ0 भीमराव आम्बेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, फतेहपुर में कोविड के बढ़ते हुये मामलों को देखते हुए कोविड प्रिकाॅशन डोज का कैम्प आयोजित किया गया। उक्त कैम्प में 18 वर्ष से अधिक छात्राओं, अधिकारियों तथा कर्मचारियों को कोविशील्ड तथा को वैक्सिन की प्रिकाॅशन डोज लगायी गयी। उक्त कार्यक्रम में 100 से अधिक छात्राओं तथा महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापकों तथा कर्मचारियों ने प्रिकाॅशन डोज का लाभ उठाया। 

शिविर का उद्घाटन करते हुये महाविद्यालय प्राचार्य डाॅ0 अपर्णा मिश्रा ने कहा कि हमारे देश ने अभी तक वैश्विक महामारी कोविड-19 का अत्यन्त सफलतापूर्वक सामना किया है। बीमारी को रोकने तथा इससे लड़ने में कोविड वैक्सीन की भूमिका अत्यन्त सराहनीय रही है। अतः आवश्यक है कि छात्राएं प्रिकाॅशन डोज लगवाकर अपने को कोविड-19 से और भी सुरक्षित करलें। कोविड हेल्प-डेस्क प्रभारी डाॅ0 प्रशान्त द्विवेदी ने कहा कि प्रिकाॅशन डोज इसलिये आवश्यक है क्योंकि लगभग नौ महीने से एक साल में वैक्सीन से उत्पन्न हुयी एन्टीबाॅडीज कम होने लगती है। प्रिकाॅशन डोज एन्टीबाॅडीज की संख्या बढ़ाकर शरीर को कोविड-19 से लड़ने के लिये तैयार करती है। अतः छात्राएं बढ़चढ़कर इस कैम्प में हिस्सा लेकर स्वयं भी सुरक्षित हों तथा समस्त समाज को प्रिकाॅशन डोज के लिए प्रेरित करें। इस अवसर पर कोविड हेल्प डेस्क टीम के सदस्य डाॅ0 शकुन्तला, डाॅ0 उत्तम कुमार शुक्ल, अशोक कश्यप सहित समस्त महाविद्यालय परिवार उपस्थित रहा।

आज ही महाविद्यालय में प्राचार्य डाॅ0 अपर्णा मिश्रा के संरक्षण में मिशन शक्ति के अन्तर्गत डाॅ0 रेखा वर्मा, हिन्दी विभाग द्वारा दहेज प्रथा एक अभिशाप विषय पर नुक्कड़ नाटक तथा स्लोगन प्रतियोगिता आयोजित की गयी। जिसमें छात्राओं ने अत्यन्त उत्साह के साथ हिस्सा लिया।