जिला पर्यावरणीय एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न

 जिला पर्यावरणीय एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न



फतेहपुर।जिला पर्यावरणीय एवं गंगा सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में जिलाधिकारी श्रीमती श्रुति की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।  उन्होंने बैठक में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, कंस्ट्रक्शन वेस्ट, ई-वेस्ट, जैव चिकित्सा अपशिष्ट प्रबंधन के निस्तारण की प्रगति की बिन्दुवार समीक्षा की। उन्होंने कहा कि नगर पालिका परिषद/नगर पंचायतों कूड़ा उठाने वाले वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाने का कार्य शेष है, जल्द से जल्द पूर्ण करा लें। उन्होंने कहा कि नालों/नाली में जाली अवश्य लगवाए, मयफ़ोटो सहित रिपोर्ट से अवगत कराएं। जैव चिकित्सा अपशिष्ट प्रबंधन के अंतर्गत जैव चिकित्सा अपशिष्ट का निस्तारण किया जा रहा है, उसका निरीक्षण समय-समय पर क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अधिकारी को निरीक्षण करने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही निरीक्षण रिपोर्ट मयफोटो सहित उपलब्ध कराए। सरकारी अस्पतालों से निकलने वाले जैव अपशिष्ट का भी निरीक्षण सम्बंधित द्वारा किया जाय। उन्होंने कहा कि नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत राजस्व संग्रह की रिपोर्ट से अवगत कराये साथ राजस्व संग्रह में तेजी लाने के निर्देश दिए। नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत में जो एमआरएफ सेन्टर चल रहे है को पूरी क्षमता के साथ चलाया जाए, साथ ही जिनमे बनाया जाना है उनका कार्य जल्द से जल्द पूरा कराया जाय। उन्होंने  गंगा सुरक्षा समिति की बैठक में कहा कि गंगा के किनारे के ग्रामो में गंगा स्वच्छता के बारे में जागरूकता अभियान चलाया जाए साथ ही गंगा आरती आदि कार्यक्रम कराये जाय।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सूरज पटेल, अपर जिलाधिकारी(न्यायिक) धीरेन्द्र प्रताप, डीएफओ  रामानुज त्रिपाठी, जिला सूचना अधिकारी श्री आरएस वर्मा समस्त अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद/ नगर पंचायत , नमामि गंगे जिला संयोजक श्री शैलेन्द्र शरन सिम्पल सहित संबंधित उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ